Featured Post

स्वर्गीय श्रीमती सुप्यार कंवर की 35वीं पुण्यतिथि पर आमरस एवं भजनामृत गंगा कार्यक्रम का हुआ भव्य आयोजन

Image
जयपुर। स्वर्गीय श्रीमती सुप्यार कंवर की 35वीं पुण्यतिथि पर सुप्यार देवी तंवर फाउंडेशन के तत्वावधान में रविवार, 19 मई, 2024 को कांवटिया सर्कल पर भावपूर्ण भजन संध्या का आयोजन के साथ आमरस प्रसादी का वितरण किया गया।  कार्यक्रम में प्रतिभाशाली कलाकारों की आकाशीय आवाजें शांत वातावरण में गुंजायमान हो उठीं, जो उपस्थित लोगों के दिलों और आत्मा को छू गईं। इस अवसर पर स्थानीय जनप्रतिनिधि, आईएएस राजेंद्र विजय, एडिशनल एसपी पूनमचंद विश्नोई, सुरेंद्र सिंह शेखावत, अनिल शर्मा, के.के. अवस्थी, अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण सहित सुप्यार देवी तंवर फाउंडेशन के अध्यक्ष राधेश्याम तंवर, उपाध्यक्ष श्रीमती मीना कंवर, मंत्री मेघना तंवर, कोषाध्यक्ष अजय सिंह तंवर एवं गणमान्य अतिथिगण उपस्थित रहे।

जयपुर के बाद जोधपुर में प्लाज्मा थैरेपी से इलाज की मिली अनुमति - चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री



जयपुर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डाॅ. रघु शर्मा ने बताया कि आईसीएमआर ने जयपुर के बाद जोधपुर के राजकीय मेडिकल काॅलेज को कोरोना से संक्रमित और गंभीर रूप से पीड़ित लोगों का प्लाज्मा थैरेपी से इलाज करने के ट्रायल की अनुमति दी है। अब प्रदेश में दो सरकारी और एक निजी चिकित्सा संस्थानों में प्लाज्मा थैरेपी के जरिए इलाज करवाया जा सकेगा। 


डाॅ. शर्मा ने बताया कि कोटा, बीकानेर, अजमेर और उदयपुर मेडिकल काॅलेज को आईसीएमआर से ट्रायल की अनुमति लेेने के निर्देश दिए हैं, ताकि प्रदेश के ज्यादा से ज्यादा मेडिकल काॅलेजों में प्लाज्मा थैरेपी की सुविधा को विकसित किया जा सके। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि इस थैरेपी के द्वारा इलाज से प्रदेश में कोरोना से होनी वाली मृत्यु दर पर कमी लाई जा सकेगी। गौरतलब है कि प्रदेश में कोरोना की मृत्युदर महज 2.79 प्रतिशत है।
 
वर्तमान में 1475 एक्टिव कोरोना पाॅजीटिव मरीज
उन्होंने बताया कि शुक्रवार को 2 बजे तक प्रदेश में 3491 मरीजों को कोरोना पाॅजीटिव चिन्हित हुए हैं। इनमें से 1916 मरीज पाॅजीटिव से नेगेटिव हो गए हैं, जबकि 1620 को तो अस्पताल से भी डिस्चार्ज कर दिया गया है। प्रदेश में बेहतरीन चिकित्सकीय प्रबंधन, सुविधाओं और चिकित्सकों की मेहनत से मरीज तेजी से रिकवर हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना पर विजय का यह शुभ संकेत भी है। वर्तमान में प्रदेश में केवल 1475 एक्टिव कोरोना पाॅजीटिव मरीज हैं। इनमें से भी ज्यादातर मरीज बेहतर स्थिति में हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब तक 1.50 लाख से ज्यादा लोगों के सैंपल लिए जा चुके हैं। 
 
एसएमएस अस्पताल से कोविड मरीजों को किया जा सकता शिफ्ट
चिकित्सा मंत्री ने कहा कि जयपुरिया के कोरोना मरीजों को आरयूएचएस और निम्स अस्पताल में शिफ्ट किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि एसएमएस की ओपीडी में 179 कोविड मरीज हैं, उनमें  से 94 संदिग्ध हैं शेष ही पाॅजीटिव हैं। उन्होंने बताया कि एसएमएस अस्पताल के मरीजों को अन्य जगह पर शिफ्ट करने की योजना के लिए उच्चाधिकारियों को निर्देश दिए हैं, ताकि सामान्य बीमारियों के लिए अस्पताल का इस्तेमाल किया जा सके और उन्हें यहां सभी सुविधाएं पहले की तरह मिलती रहे।



Comments

Popular posts from this blog

आम आदमी पार्टी के यूथ विंग प्रेसिडेंट अनुराग बराड़ ने दिया इस्तीफा

1008 प्रकांड पंडितों ने किया राजस्थान में सबसे बड़ा धार्मिक अनुष्ठान

दी न्यू ड्रीम्स स्कूल में बोर्ड परीक्षा में अच्छी सफलता पर बच्चों को दिया नगद पुरुस्कार