Featured Post

स्वर्गीय श्रीमती सुप्यार कंवर की 35वीं पुण्यतिथि पर आमरस एवं भजनामृत गंगा कार्यक्रम का हुआ भव्य आयोजन

Image
जयपुर। स्वर्गीय श्रीमती सुप्यार कंवर की 35वीं पुण्यतिथि पर सुप्यार देवी तंवर फाउंडेशन के तत्वावधान में रविवार, 19 मई, 2024 को कांवटिया सर्कल पर भावपूर्ण भजन संध्या का आयोजन के साथ आमरस प्रसादी का वितरण किया गया।  कार्यक्रम में प्रतिभाशाली कलाकारों की आकाशीय आवाजें शांत वातावरण में गुंजायमान हो उठीं, जो उपस्थित लोगों के दिलों और आत्मा को छू गईं। इस अवसर पर स्थानीय जनप्रतिनिधि, आईएएस राजेंद्र विजय, एडिशनल एसपी पूनमचंद विश्नोई, सुरेंद्र सिंह शेखावत, अनिल शर्मा, के.के. अवस्थी, अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण सहित सुप्यार देवी तंवर फाउंडेशन के अध्यक्ष राधेश्याम तंवर, उपाध्यक्ष श्रीमती मीना कंवर, मंत्री मेघना तंवर, कोषाध्यक्ष अजय सिंह तंवर एवं गणमान्य अतिथिगण उपस्थित रहे।

भाजपा के वयोवृद्ध नेता और पूर्व मंत्री भंवरलाल शर्मा का निधन


जयपुर। भारतीय जनता पार्टी के वयोवृद्ध नेता और पूर्व मंत्री रहे भंवर लाल शर्मा का शुक्रवार को लम्बी बीमारी के बाद निधन हो गया। वे 95 वर्ष के थे। शर्मा जनसंघ की स्थापना से ही राजनीति में सक्रिय रहे। इसके बाद भाजपा के संस्थापक सदस्य रहे। शर्मा के निधन से राजनीतिक हलकों में शोक की लहर छा गई।

 

25 दिसम्बर 1925 को जन्में भंवरलाल शर्मा जयपुर शहर की पहली नगर पालिका के प्रथम अध्यक्ष रहे थे। भैरोंसिंह शेखावत मंत्रीमंडल में वे 1977- 80 और 1990-1998 तक तीन बार कैबिनेट मंत्री रहे। 1989 में वे पहली बार भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बने और तीन बार भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रहे। अंतिम बार 1998 से 2003 तक भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रहे। 2003 में पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की कमान भंवरलाल शर्मा ने ही सौंपी थी और राजे ने प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर पार्टी का कार्यभार संभाला था। शर्मा 1977 से 2003 तक लगातार जयपुर की हवामहल विधानसभा क्षेत्र से छह बार विधायक रहे हैं। शर्मा भैरोंसिंह शेखावत सरकार के समय यूडीएच एवं जलदाय मंत्री रहे। उनकी गिनती शेखावत के सबसे विश्वस्त लोगों में थी। स्वर्गीय शर्मा ने 15 वर्ष पहले सक्रिय राजनीति को अलविदा कह दिया था। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी मार्च में फोन से बात कर भंवरलाल शर्मा की कुशलक्षेम पूछी थी। 

 

शर्मा के निधन पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर संवेदना प्रकट की। उन्होंने लिखा कि यह समाचार दुखद है। एक कठिन समय में गहरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिजनों के साथ है। पूर्व मंत्री शर्मा के निधन की सूचना मिलते ही भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां, जयपुर सांसद रामचरण बोहरा के साथ उनके निवास पर पहुंचे और श्रद्धांजलि अर्पित की। 

 

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि भंवरलाल शर्मा पार्टी के लिए मार्गदर्शक थे और उनका यूं चले जाना उनके लिए व्यक्तिगत नुकसान है। आमजन के साथ सदैव खड़े रहने वाले शर्मा की कमी राजस्थान में हमेशा खलेगी। प्रदेश के विकास व पार्टी की मजबूती में शर्मा का योगदान भुलाया नहीं जा सकेगा। वे सादगी पसंद थे और उन्होंने विधायक व मंत्री रहते हुए कभी सरकारी बंगला व गाड़ी का उपयोग नहीं किया।

 

शर्मा के निधन पर पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम प्रकाश माथुर, मुख्य सचेतक डॉ. महेश जोशी ने गहरी संवेदना जताई है। पिछले दिनों शर्मा की तबीयत बिगडऩे के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी वरिष्ठ नेता भंवरलाल शर्मा से उनकी कुशलक्षेम जानी थी। इस दौरान शर्मा ने पीएम मोदी से कहा था कि कोरोना महामारी को रोकने के लिए केन्द्र सरकार ने जो भी निर्णय किए हैं, वे बिल्कुल ठीक हैं और हम सभी आपके साथ खड़े हैं।

Comments

Popular posts from this blog

आम आदमी पार्टी के यूथ विंग प्रेसिडेंट अनुराग बराड़ ने दिया इस्तीफा

1008 प्रकांड पंडितों ने किया राजस्थान में सबसे बड़ा धार्मिक अनुष्ठान

दी न्यू ड्रीम्स स्कूल में बोर्ड परीक्षा में अच्छी सफलता पर बच्चों को दिया नगद पुरुस्कार