Posts

Showing posts from March, 2020

Featured Post

स्वर्गीय श्रीमती सुप्यार कंवर की 35वीं पुण्यतिथि पर आमरस एवं भजनामृत गंगा कार्यक्रम का हुआ भव्य आयोजन

Image
जयपुर। स्वर्गीय श्रीमती सुप्यार कंवर की 35वीं पुण्यतिथि पर सुप्यार देवी तंवर फाउंडेशन के तत्वावधान में रविवार, 19 मई, 2024 को कांवटिया सर्कल पर भावपूर्ण भजन संध्या का आयोजन के साथ आमरस प्रसादी का वितरण किया गया।  कार्यक्रम में प्रतिभाशाली कलाकारों की आकाशीय आवाजें शांत वातावरण में गुंजायमान हो उठीं, जो उपस्थित लोगों के दिलों और आत्मा को छू गईं। इस अवसर पर स्थानीय जनप्रतिनिधि, आईएएस राजेंद्र विजय, एडिशनल एसपी पूनमचंद विश्नोई, सुरेंद्र सिंह शेखावत, अनिल शर्मा, के.के. अवस्थी, अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण सहित सुप्यार देवी तंवर फाउंडेशन के अध्यक्ष राधेश्याम तंवर, उपाध्यक्ष श्रीमती मीना कंवर, मंत्री मेघना तंवर, कोषाध्यक्ष अजय सिंह तंवर एवं गणमान्य अतिथिगण उपस्थित रहे।

कलमकार मंच की कोशिश जारी, कोई भी व्यक्ति भूखा ना सोये

Image
भोजन वितरण के दौरान कलमकार मंच के राष्ट्रीय संयोजक निशांत मिश्रा के साथ आगाज केसरी सम्पादक सुनिल शर्मा... जयपुर। कलमकार मंच की ओर से कोरोना संक्रमण वैश्विक आपदा के दौरान भूखे व निर्धन व्यक्तियों, खानाबदोश परिवार के लोगों सहित प्रवासी मजदूरों के लिये लाॅक डाउन तक नियमित भोजन वितरण की व्यवस्था लगातार जारी है।  कलमकार मंच के राष्ट्रीय संयोजक निशांत मिश्रा ने बताया कि ‘कोई व्यक्ति भूखा नहीं सोये' की भावना को सर्वो​परि रखते हुए कलमकार मंच के सदस्यों द्वारा प्रतिदिन भोजन वितरण का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि लाॅक डाउन तक निःशुल्क भोजन के पैकेट व पानी की एक बोतल प्रति व्यक्ति वितरित की जायेगी। उन्होंने बताया कि आज हुये भोजन वितरण में बड़ी संख्या में बिहार, पश्चिमी बंगाल, झारखण्ड, तथा उत्तर प्रदेश से आये प्रवासी मजदूरों को भोजन वितरण किया गया तथा इनको यह संदेश भी दिया गया कि वे यहीं पर रहें।  मिश्रा ने कहा कि कलमकार मंच की यही कोशिश रहेगी कि कोई भी व्यक्ति को भूखा ना सोये  इसके लिए प्रयास जारी हैं।   मिश्रा ने बताया कि नियमित भोजन की व्यवस्था के लिए शुरू की गई अस्थाई रसोई के लिए

दुर्गाष्टमी पर बेसहारा और बेघर बच्चियों को खाना देकर सही मायने में करें समाजसेवा   -चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री

Image
जयपुर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि कोरोना जैसी महामारी के दौर के बीच आगामी दुर्गाष्टमी और रामनवमी पर प्रदेशवासी यदि बेसहारा, बेघर और जरूरतमंद बच्चियों को खाना बांटेंगे तो यह मायने में समाजसेवा होगी। डॉ. शर्मा ने प्रदेशवासियों से अपील की कि कोरोना जैसे महामारी के दौर में बच्चियों को बुलाकर, इकट्ठा कर या बैठाकर खाना खिलाना किसी भी हालत में उचित नहीं होगा। इससे संक्रमण फैलने की आशंका काफी हद तक बढ़ जाती है। उन्होंने कहा कि जरूरतमंद बेटियों को फूड पैकिट पहुंचाएंगे तो उनको भी भरपेट भोजन मिल सकेगा और आपके जरिए समाज की सेवा भी हो सकेगी। चिकित्सा मंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना को रोकने के लिए सभी धर्मगुरुओं के साथ बैठक हुई थी। उसी का परिणाम यह रहा कि धार्मिक स्थलों पर आमजन की आवाजाही बंद हो गई। त्योहारों और उत्सवों पर हमने खुद पर नियंत्रण किया। यहां तक कि 30 मार्च को राजस्थान दिवस पर पहली बार कोई समारोह आयोजित नहीं किया गया।    

संकट की घडी में एकजुट होकर देश का साथ दें - कलराज मिश्र

Image
राज्यपाल श्री कलराज मिश्र का प्रदेशवासियों के नाम संदेश...     जयपुर। महामहिम राज्यपाल कलराज मिश्र ने कोरोना वैश्विक महामारी की इस संकट की घडी में लोगों से लॉक डाउन का पालन करने और धीरज बनाये रखने हेतु मंगलवार को प्रदेशवासियों के नाम संदेश दिया है। राज्यपाल ने कहा है कि संकट की इस घडी में सभी को एकजुट होकर देश का साथ देना है। उन्होंने कहा कि इस वक्त घर में रहना ही देश की सच्ची सेवा है।   आप एकांत में है लेकिन अकेले नही राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा कि एक परिवार के सदस्य के नाते मेरा प्रदेशवासियों से निवेदन है कि किसी भी आपात स्थिति में जरूरत के लिए हेल्पलाइन नम्बरों पर फोन करें ताकि प्रशासन से तुरन्त आवश्यक मदद और चिकित्सा मिल सके। राज्यपाल ने कहा कि याद रखिए आप एकांत में है, अकेले नही।   लोगों की मदद करें, भेदभाव न करें राज्यपाल ने कहा कि यदि आपके आसपास ऎसे लोग हैं, जिनके पास खाने का सामान नही है, तो उनकी मदद अवश्य करें। उन्होंने कहा कि समाज के किसी भी व्यक्ति से भेदभाव न करें।   एक मीटर की दूरी जरूर रखें, घर पर रहना ही कोरोना से बचाव का इलाज राज्यपाल ने कहा कि मदद करें लेकिन एक मीटर क

राजस्थान दिवस (30 मार्च 2020) की हार्दिक शुभकामनाएं...

Image

पंचायती राज संस्थाएं 60 करोड़ से अधिक की राशि से उपलब्ध करायेगी मास्क, सेनेटाइजर और दस्ताने - पायलट

Image
11 हजार ग्राम पंचायतों को 50 हजार रुपये, 295 पंचायत समितियों को एक लाख रुपये तथा 33 जिला परिषदें को 1.5 लाख रुपये तक की स्वीकृति...   जयपुर। उप मुख्यमंत्री  सचिन पायलट ने ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण से लड़ने हेतु पंचायती राज संस्थाओं को राशि आवंटित की है। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण को गांवों में प्रभावी तरीके से रोकने हेतु सुरक्षा किट व दवा छिड़काव पर लगभग 60 करोड़ रुपये व्यय किये जायेंगे।   उन्होंने बताया कि पंचायती राज संस्थाएं इस राशि से स्वच्छता सामग्री यथा-सेनेटाइजर, मास्क, हाथ के दस्ताने आदि तथा कोरोना संक्रमण को रोकने हेतु आवश्यक दवाओं यथा-सोडियम हाइपो क्लोराइट का छिड़काव एवं वितरण की व्यवस्था करवा सकेगी। ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण से लड़ने में सहयोग प्रदान कर रहे कार्मिकों एवं जनप्रतिनिधियों को स्वच्छता सामग्री उपलब्ध कराने हेतु पंचायती राज संस्थाओं को निर्देश दिये हैं।    पायलट ने बताया कि ग्राम पंचायत को अधिकतम 50 हजार रूपये, विकास अधिकारी, पंचायत समिति को अधिकतम 1 लाख रूपये तथा मुख्य कार्यकारी अधिकारी, जिला परिषद् को अधिकतम 1.5 लाख रूपये की स्वीकृत

प्रदेशवासियों के हौसले और सजगता के आगे कोरोना को भी घुटने टेकने होंगे - स्वास्थ्य मंत्री

राज्य में स्थिति कुल मिलाकर काबू में...   जयपुर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने प्रदेशवासियों को राजस्थान दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि वीरों की धरा राजस्थान ने कभी झुकना नहीं सीखा। प्रदेशवासियों के हौसले और सजगता के आगे कोरोना को भी घुटने टेकने होंगे। यह महामारी भी प्रदेश में ज्यादा दिन नहीं टिक पाएगी। उन्होंने कहा कि आमजन अपने-अपने घरों में लॉकडाउन की पालना कर स्थापना दिवस पर प्रदेश को बेहतरीन उपहार दे सकते हैं।     चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि प्रदेश में कोरोना के कुचक्र को तोड़ने के लिए चिकित्सा विभाग की एक्टिव सर्विलांस टीम के 26793 दलों ने राज्य के 71 लाख 51 हजार से ज्यादा परिवारों के 2 करोड़ 92 लाख 41 हजार सदस्यों यानी प्रदेश की आबादी की व्यक्तिगत स्क्रीनिंग की है। इसके अलावा पैसिव सर्विलांस यानी कि ओपीडी में 27 लाख 8745 रोगियों की स्क्रीनिंग की गई है। इस कदम से न केवल बढ़ते कोरोना के संक्रमण पर रोक लगेगी बल्कि भविष्य के लिए योजना बनाई जा सकेगी। उन्होंने बताया कि पॉजीटिव मरीजों के संपर्क में आए 1600 लोगों की ट्रेसिंग कर उनके सैंपल लिए

प्रदेश में कोरोना पॉजीटिव की तादात 69 पहुंची, 14 पॉजीटिव से नेगेटिव भी हुए

Image
जयपुर। प्रदेश में दोपहर 3 बजे तक कोरोना पॉजीटिव की संख्या 69 होने की खबर के बीच एक सुखद खबर यह भी है कि चिकित्सकों की मेहनत से 14 पॉजीटिव मरीजों की रिपोर्ट अब नेगेटिव आई है। इनमें से 4 को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया है, जबकि 10 को अभी निगरानी में रखा गया है। चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बताया कि कोरोना पॉजीटिव मरीज को समुचित दवा देकर उपचार किया जाए तो उसे इस महामारी के चक्रव्यूह से भी निकाला जा सकता है। जो 14 मरीज पॉजीटिव से नेगेटिव हुए हैं, वे इस बात की मिसाल हैं। डॉ. शर्मा ने बताया कि दोपहर तक की  सूचना के अनुसार 2 मरीज रामगंज, जयपुर से 6 जैसलमेर और 1 जोधपुर के आर्मी कैंप से पॉजीटिव पाए गए हैं,  जोकि ईरान से लाए गए थे। राजस्थान से कुल 62 और 7 ईरान से आए मरीज हैं। इस तरह प्रदेश पॉजीटिव मरीजों की संख्या 69 हो गई है। जयपुर में पॉजीटिव आने वालों में एम 71 वर्षीय महिला है और एक 21 वर्षीय युवा है। दोनों मरीज रामगंज में पॉजीटिव आए शख्स के परिवार के सदस्य ही हैं।   चिकित्सा मंत्री ने बताया कि चिकित्सा विभाग की एक्टिव सर्विलांस टीम ने राज्य के 78 लाख 74 हजार 337 परिवारों के 3 करोड़ 26 ल

किसी भी व्यक्ति को भूखा नही मरने दिया जायेगा चाहे वह किसी भी प्रान्त का हो - दासोत

Image
जयपुर। कोरोना संक्रमण वैश्विक आपदा के दौरान होमगार्ड विभाग द्वारा भूखे व निर्धन व्यक्तियों तथा प्रवासी मजदूरों के लिये सोमवार से निःशुल्क भोजन वितरण का कार्य प्रारम्भ किया गया है।  महानिदेशक होमगार्ड राजीव दासोत ने बताया कि मुख्यमंत्री के आव्हान पर कि ‘कोई व्यक्ति भूखा नहीं सोये' के अनुसरण में इंडियन ऑयल कॉरपरेशन के सहयोग से प्रतिदिन दोपहर 12 बजे से भोजन वितरण का कार्य जयपुर होमगार्ड ट्रेनिंग सेंटर, गवर्नमेंट हॉस्टल चौराहे पर प्रारम्भ किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रतिदिन इसी स्थान पर इसी समय निःशुल्क भोजन के पैकेट व मिनरल वाटर की एक बोतल प्रति व्यक्ति वितरित की जायेगी। दासोत ने बताया कि आज हुये भोजन वितरण में बड़ी संख्या में बिहार, झारखण्ड तथा उत्तर प्रदेश से आये प्रवासी मजदूरों को भोजन वितरण किया गया तथा इनको यह संदेश भी दिया गया कि वे यहीं पर रहें। उन्होने बताया कि किसी भी व्यक्ति को भूखा नही मरने दिया जायेगा चाहे वह किसी भी प्रान्त का हो। इस दौरान बड़ी संख्या में स्थानीय विकलांग तथा निर्धन व्यक्तियों को भी भोजन वितरण किया गया। इस भोजन वितरण कार्य की प्रशासनिक व्यवस्थाओं का उत्

चिकित्सा मंत्री ने जरूरतमंदों को  बंटवाये भोजन पैकेट, रेजिडेंट डॉक्टर्स को उपलब्ध करवाए मास्क एवं सैनिटाइजर

Image
जयपुर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने सोमवार को प्रदेश के सभी चिकित्सको , चिकित्साकर्मियों तथा रेजिडेंट डॉक्टर्स को कोरोनावायरस की रोकथाम के लिए पर्याप्त सुरक्षा सामग्री उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए हैं। डॉ शर्मा ने बताया कि एसएमएस मेडिकल कॉलेज सहित प्रदेश के सभी चिकिसक, चिकिसाकर्मी एवं रेजिडेंट डॉक्टर्स पूरी सेवा भावना के साथ तत्परता से कोरोनावायरस वारियर्स के रूप में सेवाएं प्रदान कर रहे हैं और इनकी सुरक्षा हमारा दायित्व है।  उन्होंने एसएमएस मेडिकल कॉलेज में कार्यरत रेजिडेंट डॉक्टर्स द्वारा ध्यान आकर्षित किये जाने पर  उन्हें तत्काल मास्क N95 एवं सैनिटाइजर उपलब्ध कराने के निर्देश दिए । उन्होंने अपने राजकीय निवास पर  रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ रामचंद्र जांगू एवं सांस्कृतिक सचिव डॉ रघुवीर मीणा को यह सामग्री उपलब्ध करवाई । रेजिडेंट डॉक्टर्स को आज उपलब्ध करवाए गए N95 मास्क एवं सेनीटाइजर्स जयपुर केमिस्ट एसोसिएशन के सचिव श्री नवीन सांगी ने उपलब्ध करवाये है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेश के किसी भी व्यक्ति को भूखा नहीं स

पिंकसिटी में करवाया जा रहा है सोडियम हाइपोक्लोराईट का छिड़काव

Image
जयपुर। जयपुर नगर निगम की तरफ से कोरोना संक्रमण से बचाव के लिये पूरे शहर में सोडियम हाइपोक्लोराईट का छिड़काव करवाया जा रहा है। इसके लिये निगम ने 30 से ज्यादा दमकल लगा रखी है। प्रत्येक जोन में 3 से 4 दमकल इस कार्य में लगी हुई है। हाल ही में इस कार्य के लिये अत्याधुनिक 10 दमकलें और लगाई गई है। इनकी खासियत है की ये चलते हुये सोडियम हाइपोक्लोराईट का छिड़काव कर सकती है। वाटरमिस्ट तकनीक से लेस इन दमकलों से कम तरल से ज्यादा ऐरिया कवर किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त 120 टीमें सोडियम हाइपोक्लोराईट के छिड़काव के लिये फील्ड में लगी हुई है। निगम के 100 से ज्यादा कार्मिक पीठ पर टाकने वाली मषीनों के माध्यम से भी छिड़काव कर रहे है। लगभग सभी सार्वजनिक स्थानों, सड़कों, गलियों एवं काॅलोनियों को कवर किया जा रहा है। नगर निगम आयुक्त ने आमजन से अपील की है कि घरों पर सोडियम हाइपोक्लोराईट के छिड़काव के लिये फोन कर निगम के कन्ट्रोल रूम पर अनावश्यक दबाव नहीं बनाये। उन्होंने बताया कि निगम द्वारा पूरे शहर के सार्वजनिक स्थानों पर लगातार छिड़काव करवाया जा रहा है। उन्होेंने बताया कि कन्ट्रोल रूम में कई फोन ऐसे भी आ रहे है ज

आगरा रोड पर पैदल चल रहे श्रमिकों को बाॅर्डर तक पहुंचाने के लिए चलेगी निःशुल्क बसें

Image
जयपुर।  आगरा रोड पर बाॅर्डर की ओर पैदल चल रहे श्रमिकों को राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम की बसों द्वारा निः शुल्क उनके गंतव्य या बाॅर्डर तक तक छोड़ने की व्यवस्था की गई है। रविवार दोपहर तक 62 बसें उत्तर प्रदेश बाॅर्डर तक श्रमिकों को छोड़ चुकीं थीं और 110 बसें रवाना की गईं। इसके साथ ही निजी बसें चलाए जाने का भी निर्णय किया गया है। रोडवेज के सीएमडी नवीन जैन ने बताया कि जयपुर से आगरा रोड पर बड़ी संख्या में श्रमिक यूपी बाॅर्डर की ओर पैदल ही चल रहे हैं। इन्हें जल्द से जल्द राज्य सीमा में उनके गंतव्य तक पहुंचाने के सम्बन्ध में रविवार को जिला कलक्टर डाॅ.जोगाराम, परिवहन विभाग के आयुक्त एवं शासन सचिव रवि जैन एवं अतिरिक्त पुलिस आयुक्त अजयपाल सिंह लाम्बा के साथ हुई बैठक में विस्तृत चर्चा के बाद यह निर्णय किया गया। जैन ने बताया कि ये बसें आम नागरिकों के लिए नहीं है। यह केवल उन माइग्रेंट श्रमिकों के लिए हैं जो सड़क पर चल रहे हैं। उन्होंने बताया कि आज से निजी बसों को भी चलाया जा रहा है लेकिन ये बसें भी केवल आगरा रोड पर चल रहे केवल प्रवासी श्रमिकों को ही उनके गंतव्य तक पहुंचाएंगी। आमजन एवं विद्यर्थियों को

डीजीपी भूपेंद्र सिंह ने किया कर्फ्यूग्रस्त चारदीवारी क्षेत्र का दौरा

Image
जयपुर  । प्रदेश के महानिदेशक पुलिस भूपेंद्र सिंह ने रविवार को जयपुर शहर के कर्फ्यूग्रस्त चारदीवारी क्षेत्र का दौरा किया और वहां के हालात का जायजा लिया। उन्होंने ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों का की हौसला अफजाई की । डीजीपी ने ट्रांसपोर्ट नगर का दौरा कर वहां से बसों द्वारा जा रहे यात्रियों के बारे में जानकारी ली और पुलिसकर्मियों को इन यात्रियों की यथासंभव मदद करने के निर्देश दिए। वहीं जिला कलक्टर डाॅ.जोगाराम ने कहा है कि चारदीवारी के कर्फ्यूग्रस्त क्षेत्र में आवश्यक सामान की आपूर्ति की पूरी व्यवस्था सुचारू है। दूध, किराना, सब्जियों की आपूर्ति सुनिष्चित करने के लिए छोटी गाडियों, ई-रिक्षा एवं वैन के माध्यम से क्षेत्रवार एवं गली-गली में आपूर्ति कराई जा रही है। डाॅ.जोगाराम ने बताया कि सात थाना क्षेत्रों के चारदीवारी क्षेत्र में लगे कर्फ्यू में आवश्यक व्यवस्थाए सुनिश्चित करने के लिए हर थाना क्षेत्र पर एक आरएएस अधिकारी, रसद अधिकारी एवं चिकित्सा अधिकारी की टीम लगाई गई है। छोटी गाड़ियों एवं ई-रिक्षा के माध्यम से डोर टू डोर दूध की आपूर्ति की जा रही है। सब्जियों की आपूर्ति के लिए 200 से अधिक ठेलों

डीमार्ट और बिग बाजार भी डोर टू डोर करेंगे सामान की आपूर्ति

Image
जिला कलक्टर डाॅ.जोगाराम ने प्लान बनाकर प्रस्तुत करने के दिए निर्देश जयपुर। जिला कलक्टर डाॅ.जोगाराम ने शहर के विभिन्न डिपार्टमेंटल स्टोर संचालकों की बैठक लेकर निर्देश् दिए कि वे बिना बुकिंग भी शहर के विभिन्न क्षेत्रों में सामान की आपूर्ति करें और इसके लिए जल्द ही अपनी कार्ययोजना बताएं। डाॅ.जोगाराम ने रविवार को डीमार्ट, रिलायंस, बिग बाजार, ईजी-डे, मेट्रो मास, मिस्रीहोम, फार्मेसी आदि डिपार्टमेंटल स्टोर्स, आयल मिल एसोसिएशन, किराना एसोसिएशन , सरस डेयरी के प्रतिनिधियों की बैठक में यह निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी डिपार्टमेंटल स्टोर संचालक अपने सामानों की घर-घर आपूर्ति प्रारम्भ करें। रिलायंस पहले ही अपनी वैन के जरिए डोर टू डोर सामान की आपूर्ति प्रारम्भ कर चुका है। उन्होंने कहा कि बुकिंग एवं टेलीफोन पर सामान की आपूर्ति तो ये स्टोर पहले से ही करते रहे हैं लेकिन अब बिना बुकिंग भी अपने वाहन विभिन्न क्षेत्रों में अवस्थित करें ताकि आमजन जरूरत का सामान खरीद सके। कुछ स्टोर्स ने साॅफ्टवेयर में बदलाव कर एक दो दिन में यह व्यवस्था सुनिष्चत करने की बात कही। मीटिंग में यह भी जानकारी दी गई कि आटा मिल एफ

कोरोना पॉजीटिव मरीजों का मेडिकल कॉलेजों में हो सकेगा तुरंत उपचार

Image
जयपुर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार ने प्रदेश के समस्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों (सीएमएचओ) को कोरोना पॉजीटिव मरीजों के तुरंत उपचार के लिए चिन्हित मेडिकल कॉलेजों में इलाज शुरू करने के निर्देश दिए हैं। अतिरिक्त मुख्य सचिव द्वारा जारी निर्देश के अनुसार एसएमएस मेडिकल कॉलेज में जयपुर, अलवर, सीकर, झुंझुनूं, दौसा, अजमेर, नागौर, टोंक, भरतपुर, करौली, सवाईमाधोपुर और धौलपुर जिले के मरीजों को भर्ती कराया जा सकता है। इसी तरह डॉ. एसएन मेडिकल कॉलेज, जोधपुर में जोधपुर, पाली, जालौर, बाड़मेर, जैसलमेर और सिरोही के कोरोना पॉजीटिव मरीजों का इलाज करवाया जा सकता है। आरएनटी मेडिकल कॉलेज, उदयपुर में उदयपुर, राजसमंद, बांसवाड़ा, डूंगरपुर, चित्तौडगढ़ और प्रतापगढ़ के मरीजों को लाया जा सकता है। आदेश के अनुसार एमजीएम मेडिकल कॉलेज, भीलवाड़ा में भीलवाड़ा, एसपी मेडिकल कॉलेज, बीकानेर में बीकानेर, चुरू, हनुमागढ़, श्रीगंगानगर और न्यू मेडिकल कॉलेज, कोटा में कोटा, झालावाड़, बूंदी व बारां के कोरोना प्रभावित मरीजों के इलाज के लिए सुविधाएं उपलब्ध करवाई गई है।  

उप मुख्यमंत्री ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए विधायक कोष से 1.40 करोड़ रूपए देने की अनुशंषा की

Image
जयपुर। उप मुख्यमंत्री  सचिन पायलट ने टोंक में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए विभिन्न चिकित्सीय उपकरण एवं सामग्री उपलब्ध कराने के लिए विधायक स्थानीय क्षेत्र विकास कोष से ‘‘मुख्यमंत्री सहायता कोष‘‘ में एक करोड़ 40 लाख रूपये की राशि देने की अनुशंषा की है। पायलट ने बताया कि इस राशि से टोंक में चिकित्सा विभाग के लिए वेंटीलेटर, थर्मल स्केनर, ड्रिप स्टेण्ड, ऑक्सीजन सिलेण्डर, पल्स ऑक्सी मीटर, वाइटल मॉनीटर, आइसोलेशन के लिए बैड इत्यादि आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जा सकेगी। टोंक जिले सहित सम्पूर्ण प्रदेश के गांवों में सोडियम हाइपोक्लोराइट का स्प्रे करने का कार्य स्थानीय ग्राम पंचायतों की ओर से निरन्तर किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि टोंक के चिकित्सा विभाग को आज लगभग 15 हजार मेडिकेटेड सेनेटाइजर भी उपलब्ध करवा दिये गये हैं।    उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से लड़ने के लिए संसाधनों की कमी नहीं आने दी जायेगी। पायलट ने आमजन से अपील की है कि वह घरों में रहें तथा लॉकडाउन की पालना कर कोरोना वायरस को फैलने से रोकने में सहयोग प्रदान करें।

प्रदेश के 2.5 करोड़ लोगों की स्क्रीनिंग, संक्रमण रोकने के लिए हाइपो क्लोराइट का छिड़काव - चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री

Image
जयपुर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि राज्य भर में 60 लाख 61 हजार परिवारों के 2.5 करोड़ सदस्यों की स्क्रीनिंग का काम एक्टिव सर्विलांस टीम द्वारा व करीब 25.5 लाख रोगियों की पैसिव सर्विलांस टीम द्वारा ओपीडी में स्क्रीनिंग की जा चुकी है। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए  हाइपो क्लोराइट का छिड़काव किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि चिकित्सा विभाग अन्य विभागों के समन्वय से योजनाबद्ध तरीके से काम कर कोरोना संक्रमण से उपजे हालात पर काबू करने की कोशिश कर रहा है।   डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि 28 मार्च शाम 4 बजे तक मिली रिपोर्ट के अनुसार करीब 54 कोरोना पॉजीटिव लोगों की पुष्टि हुई है। दो पॉजीटिव केस आज सामने आए हैं। प्रदेश में कुल 56 केसेज अब तक पॉजीटिव आए हैं। उन्होंने बताया कि कल तक मिले 54 पॉजीटिव केसेज के संपर्क में आए लगभग 1400 लोगों की कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग कर स्क्रीनिंग भी की गई, उनमें से 200 लोगाें के सैंपल लिए गए और उन्हें जांच के लिए भेजा गया है।   275 यात्रियों को एयरलिफ्ट कर जोधपुर आर्मी कैंप में किया क्वारेंटाइन उन्होंने कहा कि रविवार को भारतीय मूल के 275 यात्रियों

कोरोना संकट : दुग्ध उत्पादक और डेयरीकर्मी मुख्यमंत्री सहायता कोष में देगें 1 करोड़ 11 लाख रुपये

जयपुर। जयपुर जिला दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ के अध्यक्ष ओम प्रकाश पूनियां ने एक लाख दुग्ध उत्पादक परिवारों की तरफ से मुख्यमंत्री सहायता कोष में 1 करोड़ 11 लाख रुपये की मदद की घोषणा की, उन्होंने बताया कि संकट की इस घड़ी में पूरा डेयरी परिवार सरकार के साथ खड़ा हैं। उन्होंने बताया कि जब कोरोना संक्रमण के इस दौर में एक और जहां डॉक्टर, नर्स, पुलिस और मीडियाकर्मी आम लोगों को कोरोना के संक्रमण के बचाने के लिये अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं। वहीं दूसरी और छोटे-छोटे गांव और  ढाणियों के एक लाख से अधिक दुग्ध उत्पादक दूध इकट्ठा कर उसे प्रोसेस करने, पैक करने और उपभोक्ताओं तक पहुंचाने में डेयरीकर्मियों की भी महत्ती भूमिका है। जयपुर डेयरी के कर्मचारी पांच हजार से अधिक डेयरी बूथों और शॉप एजेन्सियों के माध्यम से अकेले जयपुर शहर में रोजाना आठ लाख लीटर दूध की सप्लाई कर रहे हैं। इस सप्लाई को मैन्टेन करने के लिये जयपुर डेयरी परिसर में सैकड़ों कर्मचारी दिन रात काम कर रहें है। हालात यह है कि डेयरी प्रबन्धन इन कर्मचारियों को दिन रात काम कर रहें है। हालात यह है कि डेयरी प्रबन्धन इन कर्मचारियों को दिन रात काम करने

सबसे आगे है राजस्थान, जहां कण-कण में समाया हुआ है साहस और शौर्य - कलराज मिश्र

Image
राजस्थान दिवस 30 मार्च  2020 पर हार्दिक शुभकामनाएं... जयपुर। शताब्दियों से अमर शौर्य और अप्रतिम शक्ति के मूर्तिमान रूप में जिस भूभाग और अमर सांस्कृतिक चेतना का नाम लिया जाता है, वह है राजस्थान। इंग्लैण्ड के विख्यात कवि किप्लिंग का मानना था कि दुनिया में यदि कोई ऎसा स्थान है, जहां वीरों की हड्डियां मार्ग की धूल बनी है तो वह राजस्थान है। यह हमारे इतिहास की सच्चाई है। देश के लिए सर्वस्व न्यौछावर करने की परम्परा आज भी राजस्थान में कायम है। 30 मार्च, 1949 को जोधपुर, जयपुर, जैसलमेर और बीकानेर रियासतों का विलय कराकर वृहत्तर राजस्थान संघ बनाया गया था। तब से आज तक यह दिन राजस्थान की स्थापना के रूप में राजस्थान दिवस के तौर पर मनाया जाता है। राजस्थान, भारत का न केवल सबसे विस्तृत भौगोलिक राज्य है बल्कि सबसे खूबसूरत राज्यों में से भी एक है। यहां की संस्कृति दुनिया भर में मशहूर है।  राजस्थान की बहुआयामी संस्कृति के निर्माण में विभिन्न समुदायों और शासकों का गहरा योगदान रहा है। इसी विविधता के कारण राजस्थान का नाम आते ही हमारी आंखों के आगे बड़े-बड़े महल और किले, थार रेगिस्तान, ऊंट की सवारी, घूमर, कालबेल

पुलिस ने फ्लैग मार्च निकाला, पूरे शहर को सैनेटाइज करने का काम शुरू

Image
जयपुर।  शहर के रामगंज में दो कोरोना संक्रमित मिलने के बाद सात थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा हुआ है। इनमें सुभाष चौक, रामगंज, कोतवाली, माणकचौक, ब्रह्मपुरी, नाहरगढ़ व गलता गेट इलाके शामिल हैं। गुरुवार को रामगंज क्षेत्र में पहला कॉरोना संक्रमित व्यक्ति मिला था। जिसके बाद शुक्रवार रात पॉजिटिव मरीज से संपर्क में आया एक और व्यक्ति संक्रमित पाया गया। वह 14 दिन पहले ओमान से लौटा था। 45 साल के इस व्यक्ति ने चिकित्सा विभाग का आदेश न मानकर पूरे शहर को खतरे में डाल दिया। ओमान से लौटने के बाद व्यक्ति को क्वारैंटाइन होना था, लेकिन वह दोस्तों से मिलता रहा, मस्जिद जाकर नमाज पढ़ता रहा और शहर में घूमता रहा। ओमान से लौटने के बाद सीएमएचओ और मेडिकल टीम ने इस व्यक्ति को क्वारैंटाइन में रहने के लिए कहा था। लेकिन, वह न केवल परिजनों और खुद के बच्चों से मिलता रहा, बल्कि दोस्तों और रिश्तेदारों से भी मिला। यहां तक कि नमाज पढ़ने रहमानिया मस्जिद भी गया। यहां नमाज पढ़कर कई लोगों से मिला। 24 मार्च को इसे बुखार आया, तो एसएमएस अस्पताल की कोरोना ओपीडी में हिस्ट्री और लक्षण देखकर उसे भर्ती कर लिया गया। गुरुवार को रिपोर्ट पॉ

कोविड-19 के जंग में हर कोई योगदान देना चाहता है -मोदी, अक्षय ने पीएम केयर फंड में  दिए 25 करोड़ रुपए

Image
नई दिल्ली । प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों से मदद की अपील की। मोदी ने बताया कि कोविड-19 के जंग में हर कोई योगदान देना चाहता है। उनकी इस भावना का सम्मान करते हुए पीएम केयर फंड बनाया गया है। इसमें छोटी दान राशि भी स्वीकार की जाएगी। इससे आपदा से निपटने की हमारी क्षमता बढ़ेगी और विपरीत परिस्थितियों में लोगों तक ज्यादा पहुंच होगी। इसलिए स्वस्थ भारत और पीढ़ियों के बेहतर भविष्य के लिए सहयोग प्रदान करें। अगर आप भी इस फंड में कुछ डोनेट करना चाहते हैं तो नीचे अकाउंट नंबर समेत तमाम जानकारियां दी गई हैं। डोनेशन का काम घर बैठे डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, इंटरनेट बैंकिंग, यूपीआई और RTGS ya NEFT की मदद से किया जा सकता है। Name of the Account : PM CARES Account Number : 2121PM20202 IFSC Code : SBIN0000691 SWIFT Code : SBININBB104 Name of Bank & Branch : State Bank of India, New Delhi Main Branch UPI ID : pmcares@sbi Following modes of payments are available on the website pmindia.gov.in - Debit Cards and Credit Cards Internet Banking UPI (BHIM, PhonePe, Amazon Pay, Google Pay, PayTM, Mobikwik, e

प्रधानमंत्री ने किया सतीश गुजराल के निधन पर शोक व्यक्त

नई दिल्ली।  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सतीश गुजराल के निधन पर शोक जताया है। प्रधानमंत्री ने कहा, 'सतीश गुजराल जी बहुमुखी प्रतिभा संपन्न व्यक्ति थे। उन्होंने अपनी रचानात्मकता और संकल्प के सहारे विपत्तियों पर विजय प्राप्त की। इसके लिए उनका सम्मान किया जाता था। उनकी बौद्धिक लालसा उन्हें दूर-दूर तक ले गई लेकिन वे हमेशा अपनी जड़ों से जुड़े रहे। उनके निधन से दु:खी हूं। ॐ शांति।' 

बीकानेर, बाड़मेर, चूरू, हनुमानगढ़ सहित 18 जिलों में ओलों की चेतावनी, जयपुर में सुबह तक होती रही बूंदाबांदी

Image
जयपुर।  जयपुर लगातार तीसरे दिन बरसात से भीगा। शहर व आस-पास के क्षेत्रों में बीती रात से सुबह 9 बजे तक रुक-रुक कर बूंदाबांदी होती रही। उदयपुर के कानोड़ में भी रातभर बरसात होती रही जो सुबह तक जारी रही। यहां बेर के आकार के ओले भी गिरे। बरसात से जयपुर में बीती रात तापमान में दो डिग्र की तथा राज्य में चार डिग्री तक की गिरावट आई। अधिकांश स्थानों पर तापमान में दो डिग्री की गिरावट रही। मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार को बीकानेर, बाड़मेर, चूरू, हनुमानगढ़, जैसलमेर, जालौर, जोधपुर, नागौर, पाली, श्रीगंगानगर अलवर, भरतपुर, धौलपुर, दौसा, जयपुर, झुंझुनूं, करौली, सीकर जिलों में ओलावृष्टि की चेतावनी जारी की गई है। यहां 40 तक की गति से धूल भरी आंधी भी चल सकती है। जोधपुरर, बीकानेर, जयपुर और भरतपुर संभाग में बादल गरजने के साथ हल्की वर्षा हो सकती है। वहीं राज्य में 28 से 30 मार्च तक मौसम शुष्क रहने का अनुमान है। अगले 48 घंटों में मौसम में विशेष परिवर्तन नहीं होगा।  मौसम विभाग के अनुसार बीते 24 घंटों में कुछ स्थानों पर बादल गरजने के साथ हल्की बरसात हुई। सबसे अधिक बरसात सीकर में 17.8 मिमी, लक्ष्मणगढ़ अलवर में 13.0,

60 साल के व्यक्ति की मौत के बाद उनकी पत्नी और बेटा भी पॉजिटिव, 6445 संदिग्ध रहेंगे पुलिस के पहरे में

Image
भीलवाड़ा.  राजस्थान में चार शहर ऐसे हो गए हैं, जिनमें कोरोना का कम्यूनिटी इंफेक्शन का खतरा बढ़ गया है। भीलवाड़ा में कम्यूनिटी इंफेक्शन का सबसे बड़ा खतरा है।  वहां स्थिति फेज तीन में पहुंच चुकी है। अन्य शहर जयपुर, जोधपुर और झुंझुनूं हैं। भीलवाड़ा में गुरुवार को दो की मौत हो चुकी है। इसमें गुरुवार रात दम तोड़ने वाले 60 साल के पोजिटिव सुवा लाल जाट की पत्नी व पुत्र की रिपोर्ट शुक्रवार सुबह पोजिटिव मिली। जिसके बाद भीलवाड़ा मे पॉजिटिव रोगियों की संख्या बढकर 21 हो गई है। इससे पहले दिन में 73 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई थी। शाम तक खबर आई कि उनके बेटे और पोती भी पॉजिटिव हैं। इससे दहशत और बढ़ गई। भीलवाड़ा की सीमाएं सील हैं, इसके बावजूद कोरोना के खौफ के कारण बड़ी संख्या में भागकर दूसरे जिलों में जा चुके हैं, उनसे भी कम्यूनिटी इंफेक्शन का खतरा है। अब तक प्रदेश में कुल 45 कोरोना पॉजिटिव पाए गए, जिनमें से अकेले भीलवाड़ा में ही 21 हैं। इतना ही नहीं भीलवाड़ा देश का पहला एपिक सेंटर है, जिसमें 457 सैंपल में से 21 पॉजिटिव पाए गए। यह औसत में सर्वाधिक है।  सिटी के 77 हजार घरों का तीसरी बार सर्वे करना पड़ र

राज्य कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 5 प्रतिशत की वृद्धि

जयपुर।  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की पहल पर राज्य सरकार ने कर्मचारियों को देय महंगाई भत्ते तथा पेंशनरों के लिए महंगाई राहत दर में 5 प्रतिशत की वृद्धि की है। महंगाई भत्ते एवं महंगाई राहत दर में यह वृद्धि 1 जुलाई, 2019 से लागू होगी। इस वृद्धि से लगभग 8 लाख कर्मचारी एवं 4.40 लाख पेंशनर्स लाभान्वित होंगे। वर्तमान में राज्य कर्मचारियों को वेतन का 12 प्रतिशत महंगाई भत्ता देय है। इस वृद्धि के बाद भत्ता बढ़कर 17 प्रतिशत हो गया है। बढ़े हुए महंगाई भत्ते का लाभ राज्य कर्मचारियों के अतिरिक्त कार्य प्रभारित कर्मचारियों, पंचायत समिति, जिला परिषद के कर्मचारियों तथा राज्य के पेंशनरों को भी देय होगा।  एक जुलाई, 2019 से 29 फरवरी, 2020 तक बढ़े हुए महंगाई भत्ते की राशि संबंधित कर्मचारियों के सामान्य प्रावधायी निधि खाते में जमा की जायेगी तथा 1 मार्च, 2020 से महंगाई भत्ते का नकद भुगतान दिया जायेगा। पेंशनरों तथा 1 जनवरी, 2004 एवं उसके बाद नियुक्त राज्य कर्मचारियों को बढ़े हुए महंगाई भत्ते/महंगाई राहत का भुगतान नकद देय होगा। महंगाई भत्ते में इस वृद्धि से राज्य सरकार पर वित्तीय वर्ष 2020-21 में लगभग 3417 करोड़ र

प्रधानमंत्री ने नवरोज पर देशवासियों को बधाई दी

नई दिल्ली।  प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने नवरोज के अवसर पर देशवासियों को बधाई दी है। प्रधानमंत्री ने अपने संदेश में कहा, “नवरोज मुबारक! मैं प्रार्थना करता हूं कि आने वाला वर्ष खुशहाली एवं समृद्धि से भरा हो। मेरी कामना है कि सभी लोग स्वस्थ रहें और उनकी आकांक्षाएं पूरी हों।”

राज्यपाल स्वास्थ्यकर्मियों का हौसला बढ़ायेंगे

जयपुर।  राज्यपाल कलराज मिश्र रविवार 22 मार्च को किसी भी आगुन्तक से नहीं मिलेंगे। राज्यपाल राजभवन में अपने निवास पर ही रहेंगे।   राज्यपाल कलराज मिश्र ने प्रधानमंत्री द्वारा आह्वान किये गए जनता कर्फ्यू का समर्थन किया है। राज्यपाल रविवार को सायं 5 बजे राजभवन में अपने निवास के मुख्य भवन के द्वार पर आयेंगे। मिश्र अपने निवास के द्वार पर खड़े होकर थाली बजायेंगे और कोरोना वायरस से बचाव में जुड़े स्वास्थ्यकर्मियों का हौसला बढ़ायेंगे।   मिश्र अपने राजकीय निवास पर रहकर प्रदेश में कोरोना वायरस से बचाव के लिए चल रहे जागरुकता कार्यक्रमों की लगातार मॉनिटरिंग कर रहे हैं व अधिकारियों को आवश्यकतानुसार निर्देश दे रहे हैं। मिश्र का प्रयास है कि राज्य में कोरोना वायरस ना फैले तथा लोगों में इस वायरस से बचाव के लिए जागरुकता आये।

कोविड 19 का मुकाबला करने के लिए प्रधानमंत्री ने सभी मुख्‍यमंत्रियों के साथ की बातचीत

पीएम ने लगातार सतर्कता के महत्व को दोहराया नई दिल्ली।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सभी राज्‍यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की और COVID -19 से निपटने के उपायों पर चर्चा की। एकजुट होकर चुनौती का सामना करना प्रधानमंत्री ने कहा कि महामारी का खतरा सभी राज्यों के लिए एक समान है। उन्‍होंने केंद्र और सभी राज्यों के एक साथ काम करने की आवश्यकता को रेखांकित किया। उन्होंने कहा कि चुनौती से निपटने के लिए नागरिकों की भागीदारी आवश्यक है, लेकिन भय से बचने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि विभिन्न देशों में वायरस के प्रसार के वैश्विक संदर्भ को देखते हुए, निरंतर सतर्कता सर्वोपरि है। उन्होंने कहा कि वायरस के प्रसार को रोकने के प्रयासों में अगले 3-4 सप्ताह महत्वपूर्ण हैं, और रोकथाम के लिए सबसे महत्वपूर्ण उपाय है 'सामाजिक दूरी' यानी सोशल डिस्‍टेंसिंग। उन्होंने मुख्यमंत्रियों से इसी मंत्र को प्रभावकारी ढंग  से  लागू करने की  पक्‍की व्‍यवस्‍था करने का अनुरोध किया। अब तक उठाए गए कदम भारत सरकार की स्वास्थ्य सचिव सुश्री प्रीति सूदन ने वायरस के प्रसार को रोकने के लिए अब त

चिकित्सा विभाग ने निजी अस्पतालों और चिकित्सा संस्थानों के लिए जारी की एडवाइजरी

जयपुर।  कोरोना के बचाव और नियंत्रण के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार सिंह ने निजी अस्पतालों और चिकित्सा संस्थानों के लिए एजवाइजरी जारी की है। एडवाइजरी के अनुसार सभी अस्पतालों को इंडोर, आउटडोर, प्रशासन और प्रचार-प्रसार से जुडे कुछ विशेष दिशा-निर्देश जारी किए हैं।     निजी अस्पतालों में इंडोर फैसेलिटी के लिए     1.अति आवश्यक सर्जरी के अलावा सामान्य सर्जरी टाली जाए।  2. अस्पतालों में कुछ बैड को आइसोलन के हिसाब से तैयार रखा जाए, ताकि जरूरत पडने पर उनका उपयोग किया जा सके।  3. सभी अस्पतालों में पर्याप्त मात्रा में मास्क,ग्लव्ज, पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट व अन्य सामग्री रखी जाए।  4. सभी चिकित्साकर्मियों को संक्रमण बचाव और संक्रमण नियंत्रण का प्रशिक्षण दिया जाए किसी भी आपातकाल के लिए स्टाफ को पर्याप्त प्रशिक्षण दिया जाए।  5. सभी अस्पताल पर्याप्त संख्या में वेंटिलेटर और हाई फ्लो ऑक्सीजन मास्क तैयार रखें।     आईईसी एक्टिविटी के लिए   1. कोरोना वायरस से लड़ने और उसके लक्षणों को पहचानने संबंधी पोस्टर्स का प्रदर्शन करें। 2. अस्पताल में आने वाले मरीज को खांसी, ज

मुख्यमंत्री ने ’बकाया मंडी शुल्क माफी योजना’ को मंजूरी दी

जयपुर।  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 27 अप्रैल, 2005 से   31 दिसम्बर, 2019 तक कृषि प्रसंस्करण के लिए राज्य के बाहर से आयात की गई चीनी एवं कृषि जिन्सों के लिए बकाया मंडी शुल्क माफी योजना को मंजूरी दी है। योजना के तहत चीनी एवं कृषि जिन्सों के अनुज्ञाधारियों को बकाया मूल मंडी शुल्क की 50 प्रतिशत राशि और बकाया मंडी शुल्क पर लगाई गई समस्त ब्याज एवं शास्ति राशि माफ की जा सकेगी।   यह योजना 31 मार्च, 2020 तक प्रभावी रहेगी और इसके लिए मंडी समिति से अनुज्ञा पत्र प्राप्त कृषि प्रसंस्करण इकाइयां ही पात्र होंगी। योजना के प्रावधानों के अनुसार छूट प्राप्तकर्ता को भविष्य में लगातार मंडी शुल्क देने एवं यदि किसी न्यायालय में उसके द्वारा वाद लंबित है तो उसे वापस लेने का शपथ पत्र देना होगा।    योजना के तहत छूट प्राप्तकर्ता को छूट के लिए आवेदन के साथ आयात की गई कृषि जिन्सों के बिलों एवं अन्य दस्तावेज की प्रति भी संलग्न करनी होगी। माफी योग्य बकाया मंडी शुल्क पर दी गई छूट भविष्य में उदाहरण के लिए उपयोग नहीं ली जा सकेगी। वर्ष 2005 से अब तक जमा कराए गए मंडी शुल्क में से कोई राशि वापस नहीं की जाएगी।   उल्लेखनीय है