Posts

Showing posts from February, 2024

Featured Post

स्वर्गीय श्रीमती सुप्यार कंवर की 35वीं पुण्यतिथि पर आमरस एवं भजनामृत गंगा कार्यक्रम का हुआ भव्य आयोजन

Image
जयपुर। स्वर्गीय श्रीमती सुप्यार कंवर की 35वीं पुण्यतिथि पर सुप्यार देवी तंवर फाउंडेशन के तत्वावधान में रविवार, 19 मई, 2024 को कांवटिया सर्कल पर भावपूर्ण भजन संध्या का आयोजन के साथ आमरस प्रसादी का वितरण किया गया।  कार्यक्रम में प्रतिभाशाली कलाकारों की आकाशीय आवाजें शांत वातावरण में गुंजायमान हो उठीं, जो उपस्थित लोगों के दिलों और आत्मा को छू गईं। इस अवसर पर स्थानीय जनप्रतिनिधि, आईएएस राजेंद्र विजय, एडिशनल एसपी पूनमचंद विश्नोई, सुरेंद्र सिंह शेखावत, अनिल शर्मा, के.के. अवस्थी, अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण सहित सुप्यार देवी तंवर फाउंडेशन के अध्यक्ष राधेश्याम तंवर, उपाध्यक्ष श्रीमती मीना कंवर, मंत्री मेघना तंवर, कोषाध्यक्ष अजय सिंह तंवर एवं गणमान्य अतिथिगण उपस्थित रहे।

राजस्थान गुर्जर महासभा युवा प्रकोष्ठ ने किया गुर्जर युवा सम्मेलन का सफल आयोजन

Image
गुर्जर युवा सम्मेलन में देशभर के युवाओं ने दिया एकजुटता का संदेश गुर्जर युवा सम्मेलन में उमड़ा युवाओं का हुजूम जयपुर। विजय सिंह पथिक जयंती के उपलक्ष्य में राजस्थान गुर्जर महासभा युवा प्रकोष्ठ की ओर से मंगलवार को बिड़ला ऑडिटोरियम में गुर्जर युवा सम्मेलन का आयोजन किया गया। 13 साल बाद जयपुर में हुए युवा सम्मेलन में देश भर के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। समाज के युवाओं द्वारा देश सेवा और समाज सेवा में अपना प्रतिनिधित्व देने के उद्देश्य से आयोजित सम्मेलन के मुख्य अतिथि गृह राज्य मंत्री जवाहर सिंह बेडम रहे। उद्घाटन राजस्थान गुर्जर महासभा के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व मंत्री कालू लाल गुर्जर ने किया। राजस्थान गुर्जर महासभा युवा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष गौरव चपराना ने बताया कि सम्मेलन में युवाओं को सामाज हित में एकजुट होने का आहान किया गया। युवाओं के समक्ष शिक्षा व रोजगार संबंधी विभिन्न समस्याओं पर विचार विमर्श, देश में राष्ट्रीय राजनीतिक पार्टियों द्वारा गुर्जर समाज की उपेक्षा के प्रति विचार विमर्श, युवाओं को लेकर समाज में जेनरेशन गैप की अवधारणा पर बात की गई। साथ ही सरकार से स्वतंत्रता सेनानी व रा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्रील भक्तिसिद्धान्त सरस्वती ठाकुर के सम्मान में जारी किया स्मारक टिकट और एक सिक्का

Image
जयपुर। आध्यात्मिक गुरु स्वयं भगवान् का साक्षात स्वरुप होते हैं, वह भक्तों के जीवन का उद्धार करते हैं और उन्हें भगवद भक्ति का आशीर्वाद प्रदान करते है।  कृष्ण कृपामूर्ती श्रील भक्तिसिद्धान्त सरस्वती महाराज भगवान् चैतन्य महाप्रभु के प्रतिनिधि थे, अर्थ से परमार्थ तक कैसे जाया जाता है यह उनके जीवन से साफ़ झलकता है। दिल्ली के भारत मंडपम में गुरुवार 8 फ़रवरी को एक भव्य कार्यक्रम में माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने कर कमलों से उनके सम्मान में एक स्मारक टिकट और एक सिक्का जारी किया। यह कार्यक्रम उनकी 150 वी जयंती के उपलक्ष्य में 6 फ़रवरी से प्रारंभ हुआ था। ज्ञात हो की उनकी जयंती की तिथि 29 फ़रवरी है। श्रील भक्तिसिद्धान्त सरस्वती ठाकुर गौडीय संप्रदाय के प्रमुख गुरु एवं आध्यात्मिक प्रचारक थे,। भगवान् श्रीकृष्ण की भक्ति-उपासना के अनन्य प्रचारकों में उनका नाम अग्रणी है उन्ही से प्रेरणा और भगवद भक्ति का आशीर्वाद लेकर अभय चरणारविन्द भक्ति वेदान्त स्वामी प्रभुपाद ने पूरे विश्व में ISKCON की स्थापना की और लाखों व्यक्तियों को (जिनमे विदेशी भी शामिल थे) भगवान श्रीकृष्ण का अनन्य भक्त बनाने में सफलता

''राम आयेंगे” हेरिटेज फेस्ट में बच्चों ने भजन गायन से किया मंत्रमुग्ध

Image
निज अनुभव अब कहउँ खगेसा।  बिनु हरि भजन न जाहिं कलेसा।। राम कृपा बिनु सुनु खगराई।  जानि न जाइ राम प्रभुताई।। जयपुर। हरे कृष्ण मूवमेंट का हेरिटेज फेस्ट पूरे जोश और उल्लास के साथ आयोजित किया आ रहा है और फेस्ट में आज कई तरह की प्रतियोगिताएं आयोजित की गई जिनमे भजन गायन प्रमुख रही। शहर के स्कूलों के बच्चे इसे लेकर खासे उत्साहित थे उन्होंने इस फेस्ट मे बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया और भगवान् श्री राम की भक्ति में लीन होकर भजन गाये| ‘मेरी झोपडी के भाग आज खुल जायेंगे’, ‘पायोजी मैंने राम रतन धन पायो’, ‘श्री राम जानकी बैठे हैं मेरे सीने में’ भजन गाकर सबको मंत्रमुग्ध कर दिया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे जिला शिक्षा अधिकारी ओम प्रकाश विजय उन्होंने बच्चों का उत्साहवर्धन करते हुए मंदिर प्रभंधन को ऐसा आयोजन करने के लिए बहुत शुभकानाएं दी। आज के आयोजन के निर्णायक मंडल में प्रवीण झा प्रोग्रामिंग हेड ऍफ़ एम् तड़का, यामिनी टाक प्रसिद्द भजन गायिका, विक्रम श्रीवास्तव संगीत विशारद इन तबला उपस्थित थे। भजन गायन प्रतियोगिता में बच्चों ने तुलसीदास, सूरदास, मीरा बाई, हरिदास, वल्लाभाचार्य के शास्त्रीय भजन गाये, इस प्रतियोगिता