Posts

Showing posts from January, 2022

Featured Post

स्वर्गीय श्रीमती सुप्यार कंवर की 35वीं पुण्यतिथि पर आमरस एवं भजनामृत गंगा कार्यक्रम का हुआ भव्य आयोजन

Image
जयपुर। स्वर्गीय श्रीमती सुप्यार कंवर की 35वीं पुण्यतिथि पर सुप्यार देवी तंवर फाउंडेशन के तत्वावधान में रविवार, 19 मई, 2024 को कांवटिया सर्कल पर भावपूर्ण भजन संध्या का आयोजन के साथ आमरस प्रसादी का वितरण किया गया।  कार्यक्रम में प्रतिभाशाली कलाकारों की आकाशीय आवाजें शांत वातावरण में गुंजायमान हो उठीं, जो उपस्थित लोगों के दिलों और आत्मा को छू गईं। इस अवसर पर स्थानीय जनप्रतिनिधि, आईएएस राजेंद्र विजय, एडिशनल एसपी पूनमचंद विश्नोई, सुरेंद्र सिंह शेखावत, अनिल शर्मा, के.के. अवस्थी, अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण सहित सुप्यार देवी तंवर फाउंडेशन के अध्यक्ष राधेश्याम तंवर, उपाध्यक्ष श्रीमती मीना कंवर, मंत्री मेघना तंवर, कोषाध्यक्ष अजय सिंह तंवर एवं गणमान्य अतिथिगण उपस्थित रहे।

कलमकार पुरस्कारों की घोषणा, महेश कुमार, नैहनू राम प्रथम, संगीता सेठी और रामनारायण द्वितीय

Image
तृतीय पुरस्कार राम करन, अनिता राठौर मंजरी, अनघा जोगलेकर, वाचस्पति सौरभ, देवेश पथसारिया, साधना जोशी प्रधान और प्रकाश प्रियम को आशुकवि बंकट बिहारी ‘पागल’ सम्मान दशरथ कुमार सोलंकी को जयपुर। देश की अग्रणी साहित्यिक संस्था कलमकार मंच की ओर से राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित कलमकार पुरस्कार प्रतियोगिता में इस वर्ष कहानी एवं लघुकथा श्रेणी में प्रथम पुरस्कार जयपुर के महेश कुमार की कहानी ‘ख़ौफ़’ और गीत,  ग़ज़ल, कविता श्रेणी में प्रथम पुरस्कार टोंक के नैहनू राम मीना की रचना ‘जातन’ को दिया जाएगा। निर्णायक मंडल के निर्णय के अनुसार कहानी एवं लघुकथा श्रेणी में द्वितीय पुरस्कार बीकानेर, राजस्थान की संगीता सेठी की कहानी ‘एक थी सिंड्रेला’ और तृतीय पुरस्कार बस्ती, उत्तर प्रदेश के राम करन, आगरा, उत्तर प्रदेश की अनिता राठौर मंजरी और गुरुग्राम, हरियाणा की अनघा जोगलेकर को दिया जाएगा। गीत,  ग़ज़ल एवं कविता श्रेणी में द्वितीय पुरस्कार कोटा, राजस्थान के रामनारायण मीना ‘हलधर’ की ‘ग़ज़ल’ और तृतीय पुरस्कार समस्तीपुर, बिहार के वाचस्पति सौरभ ‘रेणु’, अलवर, राजस्थान मूल के ताईवान निवासी देवेश पथसारिया और जयपुर की साधना जोशी

प्रदेशभर में रविवार को वीकेंड कर्फ्यू

नगरीय क्षेत्रों में 12वीं तक शिक्षण संस्थान तत्काल बंद विवाह एवं अन्य समारोह में 50 व्यक्ति अनुमत होंगे लोहड़ी एवं मकर संक्रांति घर पर ही मनाने की अपील... जयपुर। विगत कुछ दिनों से प्रदेश में कोविड के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए गृह विभाग ने रविवार को महामारी सतर्क-सावधान जन-अनुशासन दिशा-निर्देश जारी किये। नई गाइड लाइन में 26 नवम्बर एवं 29 दिसम्बर, 2021 तथा 2 जनवरी एवं 5 जनवरी, 2022 को जारी दिशा-निर्देशों को भी समेकित किया गया है। इसके महत्वपूर्ण बिंदु इस प्रकार हैं- शैक्षणिक गतिविधियों के सम्बन्ध में  कोरोना संक्रमण में निरन्तर वृद्धि के मद्देनजर 15 वर्ष से कम आयु वर्ग के बच्चों को घर पर रहकर ही अध्ययन करने की सलाह दी गई है। संक्रमण का प्रसार रोकने के लिए शैक्षणिक गतिविधियों के सम्बन्ध में निम्न निर्णय लिए गए हैं-  1. राज्य के समस्त नगर निगम/नगर परिषद/नगर पालिका क्षेत्र में कक्षा 12वीं तक की शैक्षणिक (विद्यालय/कोचिंग) गतिविधियां 30 जनवरी, 2022 तक बंद रहेंगी, परन्तु ऑनलाइन अध्ययन जारी रखा जाएगा। कक्षा 10 से 12 के विद्यार्थियों को कोविड वैक्सीन लगवाने एवं माता-पिता/अभिभावक की लिखित स

नेट-थियेट पर सजी जयपुर कत्थक की झनझन

Image
निलाम भूज शामल कोमलागम  पर  दिखाई कथक की बारीकियां... जयपुर। जयपुर घराने के कत्थक पर उभरती कत्थक नृत्यांगना रानू शर्मा और शिल्पी शर्मा के कथक नृत्य में शुद्ध नृत्य के साथ साथ घराने की लटक भी देखने को मिली। उन्होंने नृत्य की शुरुआत राम भजन निलामभूज श्यामल कौन लांगम, सीता समारोह पीतवाम भागम पर  पारंपरिक कथक की बारीकियों से दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया। नेट-थियेट के श्री राजेंद्र शर्मा राजू ने बताया कि  जयपुर कथक घराने का शुद्ध कथक जिसमें आमद, परण, तिहाई ,चक्करदार बंदिशों से जयपुर कथक की तकनीक को दर्शाया। कथक नृत्य की ऑनलाइन देख रहे दर्शकों ने बेहद सराहना की। कार्यक्रम में तबला, पढंत  और गायन पर नृत्य गुरु जय कुमार जबड़ा ने अपने सुरीले वादन और गायन से कथक को परवान चढाया l सारंगी पर मनोहर लाल टांक की उंगलियो का ऐसा जादू चला कि लोग वाह-वाह कर उठे। संगतकारों की जुगलबंदी से जयपुर घराने का कथक खुब खिला। संचालन मनोज स्वामी ने किया। संगीत विष्णु कुमार जांगिड, प्रकाश एवं दृश्य सज्जा मुकेश कुमार सैनी, सौरभ कुमावत, अजय शर्मा, जीवितेश शर्मा, अंकित शर्मा नोनू,, जितेन्द्र शर्मा, अंकित जांगिड रहे।