Posts

Showing posts from April, 2021

Featured Post

स्वर्गीय श्रीमती सुप्यार कंवर की 35वीं पुण्यतिथि पर आमरस एवं भजनामृत गंगा कार्यक्रम का हुआ भव्य आयोजन

Image
जयपुर। स्वर्गीय श्रीमती सुप्यार कंवर की 35वीं पुण्यतिथि पर सुप्यार देवी तंवर फाउंडेशन के तत्वावधान में रविवार, 19 मई, 2024 को कांवटिया सर्कल पर भावपूर्ण भजन संध्या का आयोजन के साथ आमरस प्रसादी का वितरण किया गया।  कार्यक्रम में प्रतिभाशाली कलाकारों की आकाशीय आवाजें शांत वातावरण में गुंजायमान हो उठीं, जो उपस्थित लोगों के दिलों और आत्मा को छू गईं। इस अवसर पर स्थानीय जनप्रतिनिधि, आईएएस राजेंद्र विजय, एडिशनल एसपी पूनमचंद विश्नोई, सुरेंद्र सिंह शेखावत, अनिल शर्मा, के.के. अवस्थी, अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण सहित सुप्यार देवी तंवर फाउंडेशन के अध्यक्ष राधेश्याम तंवर, उपाध्यक्ष श्रीमती मीना कंवर, मंत्री मेघना तंवर, कोषाध्यक्ष अजय सिंह तंवर एवं गणमान्य अतिथिगण उपस्थित रहे।

कोरोना के उपचार में मददगार साबित हो रहा ‘आयुष 64‘ फार्मूला

प्रदेश के सभी राजकीय आयुर्वेद चिकित्सालय पर भी है निःशुल्क उपलब्ध - चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं आयुर्वेद मंत्री जयपुर। चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं आयुर्वेद मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा है कि देश के प्रतिष्ठित अनुसंधान संस्थानों के वैज्ञानिकों का मानना है कि आयुष मंत्रालय की केंद्रीय आयुर्वेद अनुसंधान परिषद द्वारा विकसित एक पाली हर्बल फॉर्मूला आयुष 64, लक्षणविहीन, हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के उपचार के सहयोग में लाभकारी है। उन्होंने कहा यह दवा व अन्य आयुर्वेद दवाएं  जैसे अश्वगंधा, गिलोय वटी, मुलेठी, अनुतेल आदि राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालयों व औषधालयों में उपलब्ध कराई जा रही हैं। आयुर्वेद मंत्री ने कहा कि कोविड महामारी के विश्वव्यापी कहर के बीच ‘आयुष 64’ दवा हल्के और मध्यम कोविड संक्रमण के रोगियों के लिए आशा की एक किरण के रूप में उभरी है। गौरतलब है कि आयुष 64 मूल रूप से मलेरिया की दवा के रूप में वर्ष 1980 में विकसित की गई थी और कोविड संक्रमण के लिए काम में ली गई है। उन्होंने बताया कि हाल में आयुष मंत्रालय तथा सीएसआईआर द्वारा हल्के से मध्यम कोविड संक्रमण के प्रबंधन में आयुष 64 की प्रभावकारित

अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस पर राज्यपाल की बधाई और शुभकामनाएं

Image
जयपुर। राज्यपाल कलराज मिश्र ने देश के निर्माण में अथक परिश्रम कर अपना योगदान देने वाले श्रमिकों को अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस (1 मई) पर बधाई और शुभकामनाएँ दी हैं । राज्यपाल ने अपने संदेश में श्रम की गरिमा के प्रति सम्मान की संस्कृति का विकास करने का आह्वान किया है। उन्होंने श्रम से जुड़े लैंगिक भेदभाव को मिटाते हुए श्रमिकों के कल्याण के लिए सभी को मिलकर प्रयास करने की भी इस अवसर पर अपील की है।

सीरम इंस्टीट्यूट शुरुआत में केवल तीन लाख डोज देने को तैयार

Image
राजस्थान सतर्क है... एक मई से नौ शहरों में 35-44 आयुवर्ग के लोगों को ही लगेगी वैक्सीन  - चिकित्सा मंत्री जयपुर। चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा है कि एक मई से 18 से 45 आयु वर्ग के लोगों के लिए वैक्सीनेशन प्रारंभ नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया से वैक्सीन की सप्लाई होनी है लेकिन कंपनी ने राजस्थान को केवल तीन लाख संभावित डोज देने की हामी भरी है। उन्होंने कहा कि ऎसे में पूरे प्रदेश में 18-45 आयुवर्ग के लिए लोगों के लिए वैक्सीनेशन प्रोग्राम प्रारंभ नहीं किया जा सकता।  डॉ. शर्मा ने कहा कि जो हमें संभावित तीन लाख वैक्सीन की डोज मिलने जा रही हैं, उनका उपयोग प्रदेश के उन शहरों में सर्वप्रथम किया जाएगा, जहां संक्रमण अधिक है। इन शहरों में भी केवल 35-44 आयुवर्ग के लोगों का ही वैक्सीनेशन होगा। इसके बाद जब वैक्सीन की सप्लाई नियमित होगी तब तय आयुवर्ग के लोगों का वैक्सीनेशन होगा।  7 करोड़ डोज की आवश्यकता चिकित्सा मंत्री ने कहा कि प्रदेश में 18-45 वर्ष आयुवर्ग के करीब 3.25 करोड़ लोग है। इसलिए प्रदेश को 7 करोड़ वैक्सीन डोज की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि वैक्सीन नहीं

प्रधानमंत्री मोदी ने मंत्रियों से कहा क्षेत्र की जनता को लगातार पहुंचाएं मदद

Image
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंत्रियों को अपने संसदीय क्षेत्र की जनता के संपर्क में रहकर लगातार मदद पहुंचाने का निर्देश दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोविड 19 प्रबंधन को लेकर शुक्रवार को बुलाई मंत्रिपरिषद की बैठक में वर्तमान महामारी को शताब्दी का संकट करार देते हुए इसे दुनिया की बड़ी चुनौती बताया। बैठक में केंद्र, राज्य सरकारों और जनता के सामूहिक प्रयासों के आधार पर कोविड 19 से लड़ाई पर चर्चा हुई।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि सरकार स्थिति से निपटने के लिए एकजुट होकर तेजी से कार्य कर रही है। उन्होंने मंत्रियों से अपने संबंधित क्षेत्रों के लोगों के साथ संपर्क में रहने, उनकी मदद करने और उनकी प्रतिक्रिया प्राप्त करने का आग्रह किया। उन्होंने यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता पर जोर दिया कि स्थानीय स्तर पर मुद्दों की तुरंत पहचान की जाए और उन्हें संबोधित किया जाए। परिषद ने केंद्र और राज्य सरकारों और भारत के लोगों की ओर से पिछले 14 महीनों में किए गए सभी प्रयासों की भी समीक्षा की। केंद्र सरकार और राज्यों के बीच तालमेल , अस्पालों के बेड, ऑक्सीजन प्लांट, उत्पादन और परिवहन

‘जान है तो जहान है, इस समय खुद को सुरक्षित रखें, ताकि भविष्य में मनाए जा सकें शादी - समारोह और उत्सव‘

Image
चिकित्सा मंत्री ने आमजन से  की  अपील... जयपुर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने आमजन से अपील करते हुए कहा है कि बढ़ते कोरोना संक्रमण से स्वयं को सुरक्षित रखने के लिए अनुशासन का परिचय दें। बेवजह घर से बाहर ना निकलें। मास्क लगाएं और दो गज की दूरी का पालन करें। उन्होंने कहा कि ‘जान है तो जहान है‘। इस समय खुद को सुरक्षित रखें ताकि भविष्य में शादी-समारोह, उत्सव आदि खुशी से मनाए जा सकें।  चिकित्सा मंत्री ने कहा कि सरकार कोरोना के संक्रमण की बढ़ती चेन को रोकने और आमजन को बचाने के लिए अगले 15 दिन कड़े कदम उठाने से भी नहीं चूकेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 3 मई तक जनअनुशासन पखवाड़ा चल रहा है। सरकार प्रतिदिन इसकी समीक्षा भी कर रही है। गृह विभाग द्वारा जारी प्रोटोकॉल की पूर्ण पालना से ही कोरोना से बचाव संभव है।  नो मास्क नो मूवमेंट चिकित्सा मंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए मास्क वैक्सीन के बराबर ही कारगर है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के ‘नो मास्क-नो मूवमेंट‘ का सभी को अनिवार्य रूप से हिस्सा बनने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की नई गाइडलाइन के

राज्य की प्रस्तावित खनिज नीति में इंवेस्टमेंट फ्रैण्डली, वैज्ञानिक दोहन, रोजगारपरक और पारदर्शिता पर होगा जोर

Image
नई खनिज नीति का प्रारुप 15 दिवस में राज्य सरकार को प्रस्तुत करने के निर्देश... जयपुर। माइंस एवं पट्रोलियम विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. सुबोध अग्रवाल ने राज्य की प्रस्तावित नई खनिज नीति अन्य प्रदेशों की तुलना में अधिक पारदर्शी, निवेशपरक, खनिज खोज और दोहन को बढ़ावा देने वाली और अधिक राजस्व बढ़ाने वाली होगी। उन्होंने नई खनिज नीति का प्रारुप 15 दिवस में राज्य सरकार को प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं। डॉ. अग्रवाल शुक्रवार को सचिवालय से वीसी के माध्यम से नई खनिज नीति का प्रारुप तैयार कर रही समिति के सदस्यों से रुबरु हो रहे थे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने पिछले दिनाें कहा था किखनन के क्षेत्र में आगे बढ़ाने के लिए राजस्थान को पूरी प्रतिवद्धता, तकनीक का बेहतर उपयोग, कार्यशैली में पारदर्शिता और इंवेस्टमेंट फ्रैण्डली नई खनिज नीति जल्दी ही जारी की जाएगी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री गहलोत की पहल और दिशा-निर्देशों के अनुसार राज्य की नई खनिज नीति को अंतिम रुप दिया जा रहा है। नई खनिज नीति में माइंस एवं पेट्रोलियम मंत्री श्री प्रमोद जैन भाया ने अन्य प्रदेशों की खनिज नीति के अध्य

घर-घर जाकर दिया कोरोना से बचाव का संदेश

Image
क्लस्टर प्रभारियों एवं एंटी कोविड टीम द्वारा शुक्रवार को डोर टू डोर सर्वे में कुल 7834 मकानों के 23074 सदस्यों को जागरूक किया गया... जयपुर। जयपुर जिला प्रशासन द्वारा कोरोना से बचाव के लिए चलाए जा रहे जन जागरूकता अभियान के अन्तर्गत शुक्रवार को भी शहर के विभिन्न क्षेत्रों में घर-घर सम्पर्क कर जन सामान्य को कोरोना से बचाव के उपायों की जानकारी दी गई, जागरूकता पोस्टर्स एवं  स्टिकर चस्पा किए गए एवं सभी पात्र व्यक्तियों को कोविड टीकाकरण के लिए जागरूक किया गया है।  जिला प्रशासन द्वारा कोविड.19 की दूसरी लहर से बचाव हेतु आमजन को जागरूक करने एवं पात्र लोगों को टीका लगवाने हेतु प्रेरित करने के लिए जयपुर नगर निगम क्षेत्र में 464 एंटी कोविड टीमों के माध्यम से यह अभियान संचालित किया जा रहा है।  शुक्रवार को जयपुर पश्चिम क्षेत्र के विधानसभा क्षेत्र किशनपोल, मालवीय नगर, सिविल लाइंस अंतर्गत राम मंदिर, हाथी बाबू का बाग, बस्ती शामियाना, विद्याधर नगर से 8 प्रिंस अपार्टमेंट, बनीपार्क साहिबा लाइन, बनी पार्क पानीपेच वाटर वक्र्स, सिंधी कॉलोनी, श्री राम कॉलोनी, सिंधी कैंप बस स्टैंड, भट्टा बस्ती, शिवाजी नगर, राज

ग्रामीण क्षेत्र में कोविड मृतक की पार्थिव देह के अंतिम संस्कार का व्यय भी राज्य सरकार वहन करेगी

Image
मुख्यमंत्री का मानवीय निर्णय... जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने नगरीय क्षेत्रों के साथ-साथ प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड महामारी से मृत व्यक्तियों के विधिवत अंतिम संस्कार में होने वाला व्यय भी राज्य सरकार द्वारा वहन करने का निर्णय किया है। ग्रामीण क्षेत्रों में अंतिम संस्कार के लिए एम्बुलैंस के माध्यम से पार्थिव देह के परिवहन की निशुल्क व्यवस्था भी राज्य सरकार द्वारा ही की जाएगी।  मुख्यमंत्री के निर्देश पर ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग ने ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड मृतक व्यक्तियों के ससम्मान अंतिम संस्कार की व्यवस्था के लिए जिला कलक्टरों तथा जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को आदेश जारी कर दिए हैं। आदेशों के मुताबिक पार्थिव देह के अंतिम संस्कार में कोरोना प्रोटोकॉल की पूरी तरह पालना सुनिश्चित की जाएगी। उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व गहलोत ने नगरीय क्षेत्रों में कोविड जनित मृत्यु के मामलों में ससम्मान अंतिम संस्कार के लिए पार्थिव देह को चिकित्सालय से श्मशान अथवा कब्रिस्तान तक निशुल्क ले जाने तथा अंतिम संस्कार में होने वाला समस्त व्यय नगरीय निकायों द्वारा वहन किए जाने

कोविड-19 के द्वष्टिगत राज्य एवं जिला स्तर पर समितियों का गठन, समितिया हेल्पलाइन नम्बर का 24 घण्टे करेगी संचालन

राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण   जयपुर। राजस्थान उच्च न्यायालय जयपुर पीठ, जयपुर द्वारा जनहित याचिका राजस्थान उच्च न्यायालय बार एसोसिएशन बनाम राज्य सरकार में 28 अप्रेल 2021 को पारित आदेश की पालना सुनिश्चित किये जाने के संबंध में राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यकारी अध्यक्ष एवं न्यायाधिपति संगीत लोढा़ के निर्देशानुसार सदस्य सचिव ब्रजेन्द्र कुमार जैन की अध्यक्षता में यहा शुक्रवार को वर्चुअल बैठक आयोजित की गयी,। बैठक में राजस्थान के समस्त जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिवगण नें भाग लिया। बैठक में मुख्य न्यायाधिपति इन्दजीत महन्ती की खण्डपीठ द्वारा राज्य स्तर पर एवं जिला स्तर पर कोविड-19 की परिस्थितियों के द्वष्टिगत समितियों के गठन के संबंध में निर्देश दिये गये । बैठक में निर्णय लिया गया कि उक्त समितिया हेल्पलाइन नम्बर का 24 घण्टे संचालन करेगी, साथ ही नियमित रूप से राज्य सरकार द्वारा अधिकृत अधिकारियों से सम्पर्क करते हुये जरूरतमंद व्यक्तियों को आवश्यक चिकित्सकीय सहायता जैसे पीडित को एम्बुलेन्स उपलब्ध कराना अस्पताल में भर्ती कराना एवं अन्य चिकित्सकीय देखभाल इत्यादि सुविधाएं

18 से 45 वर्ष आयु वर्ग के लोगों का होगा 1 मई से वैक्सीनेशन

Image
सीरम इंस्टीट्यूट की ओर से देर शाम 5.44 लाख वैक्सीन इसी माह प्रदान करने की मिली स्वीकृत... जयपुर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बताया कि 1 मई से प्रदेश में 18 से 45 वर्ष आयु वर्ग के लोगों का वैक्सीनेशन किया जाएगा। डॉ. शर्मा ने बताया कि सीरम इंस्टीट्यूट की ओर से राजस्थान सरकार को पहले तीन लाख वैक्सीनेशन डोज की सहमति प्राप्त हुई थी। इसी के मद्देनजर प्रदेश में 35 से 45 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को वैक्सीनेशन देने का कार्य प्रारंभ किया जाना था। उन्होंने बताया कि शुक्रवार देर शाम सीरम इंस्टीट्यूट ने 5.44  लाख वैक्सीनेशन इसी माह और मिलने की स्वीकृति दे दी है। चिकित्सा मंत्री ने बताया कि  प्रदेश के 18 से 45 वर्ष की आयु वर्ग के सभी लोगों का वैक्सीनेशन किया जा सकेगा।उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार से पर्याप्त संख्या में वैक्सीनेशन उपलब्ध कराने की मांग लगातार की जा रही है। गौरतलब है कि प्रदेश में 18 से 45 आयु वाले लोगों की संख्या 3. 25 करोड़ है।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में पंजीकरण अब 31 मई तक

Image
मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना का शुभारंभ 1 मई 2021 से... जयपुर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बताया कि मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में पंजीकरण अब 31 मई तक किया जा सकेगा। डॉ. शर्मा ने बताया कि इससे पहले मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में पंजीकरण की तिथि 30 अप्रेल 2021 निर्धारित की गई थी लेकिन कोविड महामारी के दौरान हो रही असुविधा के कारण मुख्यमंत्री ने पंजीकरण की तिथि को बढ़ाया है।   डॉ. शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना का शुभारंभ 1 मई 2021 से प्रदेश में होने जा रहा है। बजट घोषणा 2021-22 की अनुपालना में इस योजना में दिनांक 1 अप्रेल 2021 से पंजीकरण प्रारंभ किया गया था। आज तक लगभग 22.85 लाख परिवार इस योजना से जुड़ चुके है।  उन्होंने बताया कि जो परिवार अब तक इस योजना से जुड़ चुके है उन्हें 1 मई 2021 से लाभ मिलेगा एवं जो परिवार 31 मई 2021 तक इसमें जुड़ेंगे उन्हे पंजीकरण की दिनांक से लाभ देय होगा।

कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए जागरूक कर किया मास्क वितरण

Image
जयपुर। कोविड-19 की दूसरी लहर से बचाव हेतु आमजन को जागरूक करने एवं अधिक से अधिक पात्र लोगों को टीका लगवाने हेतु प्रेरित करने के अभियान के अंतर्गत जन सहभागिता एवं व्यापार मंडलों से सहयोग प्राप्त कर मास्क वितरण किया गया एवं आमजन को कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने के सम्बन्ध में जानकारी प्रदान की गई। साथ ही 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित किया गया।  अभियान के अन्तर्गत जयपुर नगर निगम क्षेत्र के 4 सीबीओ कार्यालय के निर्देशन में 56 कलस्टर प्रभारियों एवं 464 एंटी कोविड टीमों द्वारा डोर टू डोर सर्वे एवं जन जागरूकता कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इसके अन्तर्गत झोटवाड़ा शहर के नगर निगम हेरिटेज व ग्रेटर के आमेर, मुरलीपुरा एवं विद्याधर नगर जोन के विभिन्न विद्यालयों में जन जागरूकता गतिविधियां आयोजित की गईं। क्लस्टर विद्यालय राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय झोटवाड़ा में संस्था प्रधान संतोष बेनीवाल के नेतृत्व में ब्लॉक स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी डॉ. सरोज एवं ब्लॉक सर्वे प्रभारी भूपेंद्र शर्मा उपस्थित थे। क्लस्टर के अंतर्गत आने वाले सभी विद्यालयों

जांच के बाद आकस्मिक स्थिति का करें त्वरित समाधान - संभागीय आयुक्त

Image
नोडल अधिकारी कोविड केयर हॉस्पिटल्स पर ‘‘राउण्ड द क्लॉक’’ नजर बनाए रखें... जयपुर। संभागीय आयुक्त दिनेश कुमार यादव ने कोविड 19 संक्रमित रोगियों का इलाज कर रहे विभिन्न चिकित्सालयों में नियुक्त नोडल अधिकारियों को उन चिकित्सालयों में मरीजों की भर्ती, ऑक्सीजन एवं अन्य आवश्यक सेवाओं की स्थिति पर ‘‘राउण्ड द क्लॉक’’ नजर बनाए रखने के लिए निर्देशित किया है। जिला कलक्टर अन्तर सिंह नेहरा ने चिकित्सालयों में ऑक्सीजन ऑडिट एवं जेडीसी गोरव गोयल ने अस्पतालों में जीवन रक्षक संसाधनों के साथ बैड की संख्या में बढोतरी के लिए निर्देश प्रदान किए। यादव ने गुरूवार को जिला कलक्टे्रट सभागार में नोडल अधिकरियों की बैठक में यह निर्देश प्रदान किए। उन्होंने कहा कि सभी नोडल अधिकारी उनके दायित्व वाले अस्पतालों में स्वयं एवं अपने स्टाफ के जरिए ‘‘राउण्ड द क्लॉक’’ उपस्थिति बनाए रखें। किसी भी प्रकार की आकस्मिक स्थिति की सूचना प्राप्त होते ही स्वयं मौके पर पहुंचकर तथ्यों की पड़ताल करेंं, स्थिति के वैरिफिकेशन के बाद ही उच्चाधिकारियों से इसे शेयर करते हुए उत्पन्न गंभीर स्थिति के त्वरित समाधान के प्रयास करें। ऑक्सीजन की उपलब्धता

जिला पदाधिकारियों, मण्डल अध्यक्षों, हैरिटेज पार्षदों की वर्चुअल बैठक

Image
जयपुर। भाजपा जयपुर शहर अध्यक्ष ने जिला पदाधिकारियों, मण्डल अध्यक्षों, हैरिटेज पार्षदों की वर्चुअल बैठक को संबोधित किया ।  बैठक में वर्तमान में चल रही कोरोना संकटकाल की विषम परिस्थितियों में सेवा कार्यों को लेकर चर्चा की गई। बैठक में शहर महामंत्री कुलवंत सिंह ने सभी कार्यकर्ताओं को अधिक से अधिक वैक्सीनेशन कैंप कराने, कोरोना संक्रमित होकर ठीक हुए लोगों से प्लाज्मा दान कराने, लॉकडाउन में असहाय व्यक्तियों को हर संभव मदद करने के लिए प्रेरित किया। महामंत्री की इस प्रेरणा का सभी कार्यकर्ताओं ने उत्साह से स्वागत किया।

जीवन रक्षा के लिए संसाधन जुटाने में नहीं रखें कोई कमी - मुख्यमंत्री

Image
कोविड -19 समीक्षा बैठक... राज्य सरकार कोरोना संक्रमण की दूसरी घातक लहर से बेहद चिंतित जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि राज्य सरकार कोरोना संक्रमण की दूसरी घातक लहर से बेहद चिंतित है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि प्रदेशवासियों की जीवन रक्षा के लिए जहां से और जिस तरह से संसाधन जुटा सकते हैं, जुटाएं। संकट की इस घड़ी में पूरे हौसले और हिम्मत के साथ हम हमारी पूरी ताकत प्रदेशवासियों का जीवन बचाने में लगा दें। हमारा हर प्रयास इस संकट को दूर करने के लिए हो। गहलोत बुधवार देर रात मुख्यमंत्री निवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कोविड की दूसरी लहर में  हो रही मौतें संक्रमण की भयावह स्थिति दर्शाती है। पहली बार देखने में आ रहा है कि युवा भी इस खतरनाक वायरस से असमय ही मौत के शिकार हो रहे हैं। साथ ही, भर्ती होने वाले ज्यादातर रोगियों को हाई फ्लो ऑक्सीजन की आवश्यकता पड़ रही है। ऎसे में, यह समय हमारे लिए चिंताजनक होने के साथ-साथ चुनौती भरा भी है।  मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि ऑक्सीजन कॉन्सनटे्रटर, सिलेण्डर, फ्लो मीटर एवं

कोरोना मरीजों के लिए ऑक्सीजन और रेमडेसिविर के वितरण की पुख्ता व्यवस्था करे - जिला प्रभारी सचिव

जयपुर जिले में कोरोना की स्थिति की समीक्षा... जयपुर। जयपुर के जिला प्रभारी सचिव और जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) सुधांश पंत ने जिलाधिकारियों को निर्देश दिये है कि कोरोना मरीजों के लिए चिकित्सालयों में ऑक्सीजन और रेमडेसिविर के वितरण की पुख्ता व्यवसथा सुनिश्चित करे। उन्होंने कहा कि जयपुर के निजी चिकित्सालयों के लिए नियुक्त सभी नोडल अधिकारियों को निर्देश दिए जाए कि इस वितरण व्यवस्था की गहन मॉनिटरिंग करे और इसकी प्रतिदिन रिपोर्ट साझा करे।  पंत गुरूवार को शासन सचिवालय में जयपुर जिले में कोरोना प्रबंधन के बारे में उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने बैठक में जिला प्रशासन, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग तथा अन्य सम्बंधित अधिकारियों के साथ जिले के चिकित्सालयों में रेमडेसिविर, ऑक्सीजन और ऑक्सीजन बैड्स की वितरण व्यवस्था पर विस्तार से चर्चा की। जिला प्रभारी सचिव एवं एसीएस पीएचईडी ने बैठक में कोरोना की जांच, उपचार एवं मरीजों की भर्ती के सम्बंध में संचालित हैल्पलाईन की सक्रियता के बारे में भी अधिकारियों से फीडबैक लिया। उन्होंने कहा कि मरीजों के

कोविड संक्रमित मरीजों के भर्ती व डिस्चार्ज करने के लिए दिशा निर्देश जारी

Image
हल्के लक्षण या लक्षण रहित कोविड के रोगियों का घर पर ही उपचार सम्भव है... जयपुर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा के निर्देश पर प्रदेश में उपलब्ध संसाधनों को देखते हुए कोविड संक्रमित मरीजों को अस्पताल में भर्ती एवं डिस्चार्ज करने के संबंध में प्रदेश के राजकीय व निजी चिकित्सालयों के प्रभारियों और अधीक्षकों के लिए  गाइडलाइन जारी की गई है। चिकित्सा शिक्षा सचिव वैभव गालरिया ने इस संबंध में वरिष्ठ विशेषज्ञ चिकित्सकों से विचार विमर्श कर दिशा निर्देश जारी किए हैं। एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ सुधीर भंडारी ने बताया कि हल्के लक्षण या लक्षण रहित कोविड के रोगियों का घर पर ही उपचार सम्भव है। इन रोगियों की समय-समय पर घर पर रक्त में ऑक्सीजन स्तर की जांच पल्स ऑक्सीमीटर द्वारा की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि मध्यम या गंभीर लक्षण वाले रोगियों में यदि ऑक्सीजन लेवल सही है (90 प्रतिशत से अधिक) तो उनकी भी समय-समय पर घर पर ही मॉनिटरिंग की जाए। स्थिति में बदलाव या स्थिति गंभीर होने पर तुरन्त चिकित्सक की निगरानी में उपचार कराया जाए।  डॉ. भंडारी ने बताया कि श्वास लेने में तकलीफ होने,  सीने में

मेडिकल ऑक्सीजन उद्योगों को राज्य में विशेष पैकेज

Image
मेडिकल ऑक्सीजन का उत्पादन बढ़ाने के लिए  मु ख्यमंत्री का महत्वपूर्ण निर्णय जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोविड-19 महामारी के कारण पैदा हुई मेडिकल ऑक्सीजन की कमी दूर करने के लिए राज्य में मेडिकल ऑक्सीजन निर्माता उद्योगों के लिए विशेष पैकेज देने की घोषणा की है। इसके तहत नया निवेश कर मेडिकल ऑक्सीजन बनाने वाले उद्यमों को विभिन्न परिलाभ एवं सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। इसके अन्तर्गत परिलाभ प्राप्त करने वाले उद्यमी को कम से कम 1 करोड़ रूपये का निवेश कर 30 सितम्बर 2021 तक उत्पादन प्रारंभ करना आवश्यक होगा। पैकेज के तहत इन उद्यमियों को राजस्थान एमएसएमई एक्ट-2019 के प्रावधानों के अनुसार उद्यम स्थापना के प्रांरभिक तीन वर्षों में राज्य सरकार के संबंधित विभागों की नियामक स्वीकृतियों और निरीक्षणों से छूट प्रदान की जाएगी। साथ ही, केन्द्र सरकार के संबंधित विभागों से भी जरूरी स्वीकृतियां दिलवाने, बिजली तथा पानी कनेक्शन की व्यवस्थाएं शीघ्र उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार विशेष सहयोग देगी। इसी प्रकार पैकेज के तहत प्लांट, मशीनरी एवं अन्य उपकरणों पर किए गए व्यय (अधिकतम 50 लाख रूपये) के 25 प्रतिशत तक की राशि

ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने के लिए प्रोनिंग हो सकती है मददगार

Image
काम की बात... केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और विशेषज्ञ भी कर रहे हैं प्रोनिंग की पैरवी... जयपुर। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी दिशा निर्देशों के अनुसार होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना संक्रमित मरीज प्रोनिंग के जरिए कम होते ऑक्सीजन लेवल में सुधार कर सकते हैं।  चिकित्सा शिक्षा सचिव वैभव गालरिया ने बताया कि प्रदेश और देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हुई है। विशेषज्ञों ने ऑक्सीजन का स्तर कम होने पर खुद की निगरानी में प्रॉनिंग की सलाह दी है। ऑक्सीजन का स्तर 94 से नीचे आने पर हो प्रोनिंग जयपुर के सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ.सुधीर भंडारी ने बताया कि जब ऑक्सीजन का स्तर 94 से नीचे आ जाए, तो होम आइसोलेशन में रहते हुए कोविड मरीज को प्रोनिंग करनी चाहिए। प्रोनिंग की यह स्थिति वेंटीलेशन में सुधार करके मरीज की जान तक बचा सकती है। ऑक्सीजनेशन होता है 80 प्रतिशत तक सफल डॉ. भंडारी ने कहा कि प्रोनिंग की पोजीशन सांस लेने में आराम और ऑक्सीकरण में सुधार करने के लिए मेडिकली प्रूव्ड है। इसमें मरीज को पेट के बल लिटाया जाता है। यह प्रक्रिया 30 मिनट से दो घंटे की होती ह

हनुमान जयंती पर निर्भया के साथ हनुमान जी ने की नाका बंदी

Image
जयपुर। अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त सुनीता  मीना ने बताया कि हनुमान जयंती के शुभ अवसर पर निर्भया स्क्वायड ने अनोखे तरीके से कोरोना से बचाव के लिए जनता को जागरूक किया। निर्भया ने हनुमान जी के रूप में नाकाबंदी करते हुए यह संदेश दिया कि मैं हनुमान कोरोना से बचाव की संजीवनी लेकर आया हूं और यह संजीवनी बूटी मास्क एवं वैक्सीन है इसे तुरंत अपनाने वाला कोरोना से जंग जीत जाएगा। हनुमान जी ने सभी को अपनी आंतरिक शक्ति को जगाने के लिए बताया कि अपने आत्म विश्वास को जगाइए अनुशासन में रहिए और बेवजह घर के बाहर ना निकलिए। आप हमारा साथ दोगे तो हम रावण रूपी कोरोना को भी हरा देंगे। नाकाबंदी पॉइंट पर हनुमान जी ने समझाया व इसके साथ ही संजीवनी बूटी के रूप में मास्क भी वितरित किए जनता ने जन जागरूकता के अभिनव प्रयास के लिए निर्भया स्क्वायड की प्रशंसा की है।

जमीनी स्तर पर संक्रमण का प्रसार रोकने के लिए पुलिस-प्रशासन और अधिक सख्ती करें - मुख्यमंत्री

Image
कोविड-19 की समीक्षा बैठक...   प्रदेश के मंत्री समूह की केन्द्र के साथ बैठकों से सकारात्मक माहौल बना जयपर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से फोन पर बात कर राजस्थान में कोविड-19 की गंभीर स्थिति से अवगत कराया है। दूसरी तरफ, प्रदेश के तीन कैबिनेट मंत्रियों के समूह की केन्द्र सरकार के मंत्रियों और अधिकारियों के साथ दिनभर चली बैठकों में भी राज्य सरकार ने कोविड के वर्तमान हालात का पूरा ब्यौरा केन्द्र सरकार के साथ साझा किया तथा जल्द से जल्द ऑक्सीजन गैस, इसके परिवहन के लिए टैंकरों एवं अन्य जरूरी दवाओं की आपूर्ति बढ़ाने की मांग की। श्री गहलोत ने बताया कि सभी केन्द्रीय प्राधिकारियों ने राज्य की आवश्यकताओं को समझा है और पूरी मदद का भरोसा दिया है।  मुख्यमंत्री ने मंगलवार रात वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से 3 घंटे चली बैठक मेंं कोविड-19 की स्थिति की गहन समीक्षा की। उन्होंने कहा कि राजस्थान में संक्रमण बहुत अधिक तेजी से फैल रहा है, जिसका सबसे बड़ा कारण आमजन द्वारा कोविड अनुशासन की प्रभावी पालना नहीं करना है। यदि लोग स्वयं अनुशासित होकर इस गति पर नियंत्रण में सहयोग नहीं

पश्चिमी राजस्थान की राजनीति के `सुल्तान` गाजी फकीर सुपुर्द-ए-खाक

Image
मुख्यमंत्री गहलोत ने व्यक्त की संवेदना... जयपुर।   पश्चिमी राजस्थान में मुस्लिम समाज के धर्मगुरु और कैबिनेट मंत्री सालेह मोहम्मद के पिता गाजी फकीर का लंबी बीमारी के बाद मंगलवार तड़के 2 बजे जोधपुर के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया, वो 84 साल के थे। जानकारी मिलने पर मुस्लिम समाज और अन्य समुदायों के लोगों में शोक की लहर दौड़ गई। वे पिछले कुछ दिनों से कोमा में चल रहे थे। गाजी फकीर को मंगलवार को उनके पैतृक गांव में सुपुर्द-ए-खाक किया गया। मंगलवार सुबह उनके पैतृक गांव झाबरा में उनका शव लाया गया, जहां हजारों अनुयाईयों ने पहुंचकर उनके अंतिम दर्शन किए और उन्हें श्रद्धांजलि दी। आस-पास के कई क्षेत्रों से उनके चाहने वाले उनके गांव पहुंचे। इसके बाद उनके घर से लेकर गांव की दरगाह तक उनकी अंतिम यात्रा निकाली गई। सपुर्द-ए-खाक किया गया। लोगों ने उन्हें नम आंखो से विदाई दी। हालांकि, उनके बेटे और राजस्थान सरकार में मंत्री सालेह मोहम्मद ने लोगों से अपील की थी कि कोरोना संक्रमण के चलते गाइडलाइन का पालन करें और अपने घरों में ही रहें।