Featured Post

स्वर्गीय श्रीमती सुप्यार कंवर की 35वीं पुण्यतिथि पर आमरस एवं भजनामृत गंगा कार्यक्रम का हुआ भव्य आयोजन

Image
जयपुर। स्वर्गीय श्रीमती सुप्यार कंवर की 35वीं पुण्यतिथि पर सुप्यार देवी तंवर फाउंडेशन के तत्वावधान में रविवार, 19 मई, 2024 को कांवटिया सर्कल पर भावपूर्ण भजन संध्या का आयोजन के साथ आमरस प्रसादी का वितरण किया गया।  कार्यक्रम में प्रतिभाशाली कलाकारों की आकाशीय आवाजें शांत वातावरण में गुंजायमान हो उठीं, जो उपस्थित लोगों के दिलों और आत्मा को छू गईं। इस अवसर पर स्थानीय जनप्रतिनिधि, आईएएस राजेंद्र विजय, एडिशनल एसपी पूनमचंद विश्नोई, सुरेंद्र सिंह शेखावत, अनिल शर्मा, के.के. अवस्थी, अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण सहित सुप्यार देवी तंवर फाउंडेशन के अध्यक्ष राधेश्याम तंवर, उपाध्यक्ष श्रीमती मीना कंवर, मंत्री मेघना तंवर, कोषाध्यक्ष अजय सिंह तंवर एवं गणमान्य अतिथिगण उपस्थित रहे।

परशुराम जयंती पर आयोजित होंगे विभिन्न कार्यक्रम


भगवान परशुराम जयंती पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं...


जयपुर। कोरोना वायरस महामारी की वजह से इस समय देश भर में लॉकडाउन चल रहा है। साथ ही सभी सार्वजनिक स्थलों पर होने वाले धार्मिक आयोजनों पर भी रोक लगी है। ऐसे में भगवान विष्णु के छठे अवतार भगवान परशुराम की जयंती 25 अप्रैल को घरों में रहकर ही मनायी जाएगी।


जानकारी अनुसार प्रदेश और प्रवासी राजस्थानियों द्वारा लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए भगवान परशुराम की जयंती के उपलक्ष में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। ब्राह्मण समाज के विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों से हुई बातचीत से पता चला कि इस बार लॉकडाउन के कारण सभी विप्रजन अपने घरों में रहकर जयंती मनाएंगें। इस अवसर पर भगवान परशुराम जी के चित्र पर माल्यार्पण कर प्रसाद वितरण किया जाएगा। बच्चों के द्वारा घर पर भगवान परशुराम की पेटिंग बनाई जाएगी। बेजुबान पक्षियों के लिए छतों पर दाना-पानी के लिए परिंडे लगायें जायेंगे। इंटरनेट के जरिए वीडियो के माध्यम से एक—दूसरे के साथ जुडकर पूजा—पाठ कर, सामाजिक दायित्व निभाने का संकल्प लिया जाएगा। सभी विप्रजन भगवान से प्रार्थना करेंगे कि विश्व कल्याण के लिए करोनो जैसी महामारी को जल्द से जल्द जड से समाप्त करेंं।


गुरुजी वास्तु एवं ज्योतिष अनुसंधान केन्द्र के आचार्य पण्डित सुभाष शर्मा ने कहा कि पहले संकल्प लें कि जो सामग्री (रोली, मोली, चावल, धूप, दीप, प्रसाद और फल) घर में उपलब्ध होगी उसी से पंचोचार पूजन, परशुराम चालीसा का पठन और आरती करेंगें। सुविधानुसार प्रत्येक घर में रात्रि आठ बजे पांच, सात, नौ या ग्यारह दीपक जलाए जाएं। 


उन्होंने बताया कि जूम वीडियो के माध्यम से जयंती मनाएंगे जिसमें सभी सदस्य किसी भी असहाय परिवार का एक माह का पालन करने का संकल्प लेंगे।



परशुराम जयंती के पावन पर्व पर राजस्थान ब्राह्मण महासभा के प्रदेशाध्यक्ष पण्डित भंवरलाल शर्मा, सर्व ब्राह्मण महासभा के प्रदेशाध्यक्ष सुरेश मिश्रा, ब्राह्मण समाज राजसस्थान के प्रदेशाध्यक्ष अम्बिका प्रकाश पाठक ने हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं प्रेषित की है। साथ ही आव्हान किया है कि सभी विप्रबंधु परशुराम जयंती के दिन रात्रि आठ बजे अपने घरों में कम से कम पांच या ग्यारह दीपक अवश्य जलाएं और प्रदेश की खुशहाली व कोरोना से स्थाई निजात पाने के लिए प्रत्यक्ष देव से प्रार्थना करेंं।


 


 


 


 


 


Comments

Popular posts from this blog

आम आदमी पार्टी के यूथ विंग प्रेसिडेंट अनुराग बराड़ ने दिया इस्तीफा

1008 प्रकांड पंडितों ने किया राजस्थान में सबसे बड़ा धार्मिक अनुष्ठान

दी न्यू ड्रीम्स स्कूल में बोर्ड परीक्षा में अच्छी सफलता पर बच्चों को दिया नगद पुरुस्कार